पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोनाकाल में उम्मीदों का आसमान:126 साल के इतिहास में पहली बार बिना दर्शकों के हुआ रावण दहन

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ड्रोन फोटो(जितेंद्र सिंह) ़
  • आम तौर पर रावण दहन देखने के लिए लगभग 1.50 लाख लोग मौजूद रहते थे। इस बार रावण के पुतले की लंबाई भी 111 फीट से घटकर 12 फीट ही रह गई।

दशहरा ग्राउंड में रविवार को रावण दहन हुआ। इस दौरान केवल निगम के अधिकारी और पू्र्व राजपरिवार के सदस्य ही मौजूद रहे। कोरोना गाइडलाइन के चलते दर्शकों के आने की मनाही थी। इसके लिए चारों तरफ पुलिस की तैनाती रही। ऐसा मेले के 126 साल के इतिहास में पहली बार हुआ है, जब बिना दर्शकों की मौजूदगी के ही रावण दहन हो गया। आम तौर पर रावण दहन देखने के लिए लगभग 1.50 लाख लोग मौजूद रहते थे। इस बार रावण के पुतले की लंबाई भी 111 फीट से घटकर 12 फीट ही रह गई।

तीनों पुतले महज साढ़े 3 मिनट में खाक हो गए। इस बार परंपरागत तरीके से भरने वाला दरीखाना भी नहीं भरा। रावण दहन का टीवी पर लाइव प्रसारण किया गया। इससे पहले पूर्व राजपरिवार के सदस्य इज्यराज सिंह ने परंपरागत तरीके से कलश पूजन किया और तीर चलाकर अमृत कलश को भेदा। वहीं डीसीएम एरिया और रेलवे स्टेशन इलाके में रावण दहन नहीं हुआ।
दशहरे पर 10 हजार जिंदगियां बचने का उल्लास

कोरोनाकाल में निगेटिव खबरों के बीच पॉजिटिव खबर है। शहर में काेरोना से रिकवर होने वाले मरीजों का आंकड़ा 10 हजार का आंकड़ा पार कर चुका है। शहर में कुल मिलाकर 10201 मरीज ठीक हो चुके हैं। 1 से 25 अक्टूबर के बीच रिकवरी रेट 170.68 प्रतिशत रही। ये अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है। अप्रैल में 62.43, मई में 86.24, जून में 87.19, जुलाई में 39.16, अगस्त में 68.65 और सितंबर में 105.66 फीसदी मरीज ठीक हुए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें