पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Shanti Dhariwal Said – Stock Of Lakhs Of Doses Of Vaccine In BJP Supported States, Bias With Rajasthan In Giving Vaccine, More New Names Will Come In The Investigation Of BVG Case Kota Rajasthan

UDH मंत्री ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना:शांति धारीवाल बोले-बीजेपी समर्थित राज्यों में वैक्सीन का लाखों डोज का स्टॉक, वैक्सीन देने में राजस्थान के साथ पक्षपात, BVG मामले की जांच में ओर भी नए नाम आएंगे

कोटा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
UDH मंत्री ने अपने आवास पर जन सुनवाई की। - Dainik Bhaskar
UDH मंत्री ने अपने आवास पर जन सुनवाई की।

प्रदेश में वैक्सीन की किल्लत को लेकर यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। कोटा में जन सुनवाई के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि वैक्सीन देने में राजस्थान के साथ पक्षपात किया जा रहा है। राजस्थान को वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो पा रही है। सारे के सारे सेंटर बंद पड़े हैं। जबकि जिन राज्यो में बीजेपी की सरकारें है वहां तो वैक्सीन का लाखों डोज का स्टॉक पड़ा हुआ है।

कोरोना संक्रमण से मुखिया के मौत के बाद राज्य सरकार की ओर से परिजनों को आर्थिक सहायता सौपी
कोरोना संक्रमण से मुखिया के मौत के बाद राज्य सरकार की ओर से परिजनों को आर्थिक सहायता सौपी

उन्होंने कहा कि मंहगाई आसमान छू रही है। सभी चीजों के दाम बढ़ रहे है। महंगाई से आम आदमी परेशान है। महंगाई ऐसा मुद्दा बन गया है कि मोदी जी की सारी स्कीम फेल हो गई है। मोदी जी का ना वैक्सीनेशन पर ध्यान है ना ही मंहगाई पर ध्यान है।

जयपुर नगर निगम में रिश्वत के प्रकरण को लेकर धारीवाल ने कहा कि BVG मामले में ACB जांच कर रही है। अभी और पता नही किस-किस का नाम आएगा। मैंने तो शुरू में बात कही थी। यह मामला बहुत लंबा जाएगा। इसमें एक ही नहीं और भी कई है ACB अपने आप सब खोलेगी। एफआईआर दर्ज कर ली। तफ्तीश में ओर नए नए नाम आएंगे। उन्होंने कहा कि प्रशासन शहरों के संग अभियान 2 अक्टूबर से चालू किया जाएगा। सिवायचक भूमि पर हाईकोर्ट की आदेश की पालना करते हुए पट्टे दिए जाएंगे।

इससे पहले UDH मंत्री ने अपने आवास पर जन सुनवाई की। और कोरोना संक्रमण से मुखिया के मौत के बाद राज्य सरकार की ओर से परिजनों को आर्थिक सहायता सौपी। धारीवाल ने कहा कि जिले में अभी 71-72 केस बताएं है। दिक्कत ये आ रही है, कि कई जगह कोरोना लिखा ही नहीं है। जैसे जैसे जांच होगी वैसे वैसे ही ये कंफ्यूजन दूर होता जाएगा। कमेटी मौत के कारणों की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...