पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Shashank Yadav Is Not Cooperating In Interrogation, Repeatedly Changing Statement, Court Extended PC Remand For 1 Day, ACB Team Brought Records From Neemuch Kota Rajasthan

IRS अधिकारी की रिमांड अवधि बढ़ाई:पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा, बार बार बयान बदल रहा शशांक यादव, कोर्ट ने 1 दिन का पीसी रिमांड बढ़ाया, नीमच से रिकॉर्ड लाई ACB टीम

कोटा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
IRS अधिकारी शशांक यादव को 1 दिन का रिमांड बढ़ाया - Dainik Bhaskar
IRS अधिकारी शशांक यादव को 1 दिन का रिमांड बढ़ाया

IRS अफसर शशांक यादव को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की टीम ने ACB कोर्ट में पेश किया। जहां से ACB कोर्ट के न्यायाधीश प्रमोद मलिक ने गिरफ्तार IRS अधिकारी शशांक यादव को 1 दिन के रिमांड पर भेजा। पूछताछ में सहयोग नहीं करने व बार बार बयान बदलने पर जांच अधिकारी की और से 2 दिन का रिमांड मांगा गया था। इधर ACB की टीम नीमच फैक्ट्री में जांच पड़ताल के बाद कुछ रिकॉर्ड अपने साथ लाई है। जांच अधिकारी ASP धर्मवीर ने बताया कि फिलहाल रिकॉर्ड की जांच की जा रही है। पूछताछ व रिकॉर्ड जांच के बाद ही आगे की स्थिति साफ हो सकेगी।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 4 दिन के रिमांड के दौरान IRS अफसर ने अपनी जुबान नहीं खोली। पैसों के बारे में पूछताछ करने पर वो ACB अधिकारियों को गुमराह करता रहा। वो फैक्ट्री के लोगों के ही अलग-अलग नाम लेकर उनसे रकम लाना बताता रहा। फिलहाल ACB की टीम अवैधवसूली के पूरे खेल के बारे में पूछताछ में जुटी है। जांच में कई चेहरो के बेनकाब होने की उम्मीद है।

शशांक 2010 बेच का IRS अफसर है। जो पिछले लंबे समय से अवैध वसूली के खेल में शामिल था। सूत्रों से मिले इनपुट के आधार पर 17 जुलाई को ACB की टीम हैंगिंग ब्रिज टोल नाके पर आरोपी की गाड़ी को रुकवाकर आकस्मिक चेकिंग की। उसकी गाड़ी में मिठाई के डिब्बे में रखे 15 लाख व लैपटॉप के बैग और पर्स से 1.32 लाख यानी कुल 16 लाख 32 हजार 410 रुपए जब्त किए। ACB की टीम ने जब्त रकम के बारे में पूछताछ की तो आरोपी संतोषजनक नही दिया। जिसके बाद उसे गिरफ्तार किया था।

ACB को सूत्र ने बताया था कि अफीम की बढ़िया गाढ़ता व मारफीन प्रतिशत ज्यादा बताकर 10 आरी,12 आरी का पट्टा दिलवाने के लिए प्रति किसान से 60 से 80 हजार रुपए की वसूली जाती है। जो किसान रुपए नहीं देता। उसकी अफीम को घटिया बताकर या गाढ़ता व मारफीन प्रतिशत कम कर देते थे। सूत्र ने बताया था कि अफीम लैब के अजीत सिंह व कोडिंग टीम के दीपक कुमार यादव ने दलालों के जरिये 6 हजार से ज्यादा किसानों से 10 आरी, 12 आरी के पट्टे दिलवाने के नाम पर 30 से 36 करोड़ रुपए एडवांस वसूल कर लिए है। शशांक यादव, अवैध रूप से वसूल किए गए लगभग 15 लाख रुपए, पुलिस का लोगो लगी हुई स्कॉर्पियो गाड़ी से चित्तौड़गढ़- कोटा होता हुआ गाजीपुर जाएगा।

खबरें और भी हैं...