पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Shekhawat's Reply To Those Demanding To Declare CM's Face In BJP Said, Those Who Understand The Traditions Of BJP, They Will Not Question This Subject Kota Rajasthan

BJP में सीएम के चेहरे पर मंत्री शेखावत का जवाब:बोले- जो बीजेपी की परंपराओं को समझते हैं, वो इस विषय पर सवाल नहीं करेंगे

कोटा10 दिन पहले
केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत।

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत आज हाड़ौती के दौरे पर हैं। वो देर रात ट्रेन से कोटा पहुंचे। सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में गजेंद्र सिंह शेखावत सीएम का चेहरा घोषित करने पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि जो भारतीय जनता पार्टी की परंपराओं को समझते है वो इस विषय पर सवाल नहीं करेंगे। उन्होंने इशारो इशारो में बीजेपी में सीएम का चेहरा घोषित करने की मांग करने वालों को जवाब दिया है। हाड़ौती की धरती से ही सबसे पहले सीएम का चेहरा घोषित करने की मांग उठी थी।

उन्होंने इशारो इशारो में बीजेपी में सीएम का चेहरा घोषित करने की मांग करने वालों को जवाब दिया है।
उन्होंने इशारो इशारो में बीजेपी में सीएम का चेहरा घोषित करने की मांग करने वालों को जवाब दिया है।

गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि जो लोग भारतीय जनता पार्टी की परंपराओं को समझते है वो इस विषय पर सवाल नहीं करेंगे। यह सब तय करने का काम पार्लियामेंट्री बोर्ड का है।पार्लियामेंट्री बोर्ड जो निर्णय करेगा,वही निर्णय अंततः सबको मान्य होगा। हम सब परिवार भाव से काम करने वाले लोग हैं। इस परिवार भाव की परंपरा में क्या होगा, यह तो ना हमारी विचार परंपरा में नहीं, विचार परिवार की नीति और रिति में। हमारे यहां जो दायित्व जिसको मिलेगा उस दायित्वों को करने के लिए हम सभी लोग मिलकर के बराबर उत्साह से काम करें।

मोदी की तारीफ

अगस्त 2019 में पीएम मोदी ने जल जीवन मिशन' हर घर नल, नल में जल योजना की घोषणा की थी।उस समय देश में 19 करोड़ आवास में से तीन करोड़ 23 लाख घरों में ही पीने का पानी नल के माध्यम से पहुंचता था। 83 प्रतिशत घरों की माताओं, बहिनों को सिर पर मटका लेकर बाहर हैंडपंप अन्य जगहों से या कहीं दूर से पानी लाना पड़ता था।

साल 2019 में योजना का शुभारंभ हुआ। कोरोना के कारण काम की गति भी धीमी रही। मोदी सरकार ने 21 महीने के कार्यकाल में 5 करोड़ नए कनेक्शन देने में कामयाबी हासिल की। जबकि 70 साल तक अलग-अलग सरकारों द्वारा काम करने के बावजूद भी तीन करोड़ 23 लाख घरों तक पहुंच पाए थे।योजना में राजस्थान अंतिम पायदान खड़े हुए प्रदेशों में एक है राजस्थान सरकार को अपनी कुर्सी बचाने की चिंता छोड़कर, लोक कल्याणकारी नीतियों की पूर्ति के लिए काम करना चाहिए।

खबरें और भी हैं...