• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Sitting Overnight At The Gate Of The Room Near The Stairs Of The Two storey House, The Family Members Came In Panic, The Snake Catcher Caught The Flying Owl And Released It On The Chambal Shore Kota Rajasthan

डेढ़ फीट लम्बे उल्लू का रेस्क्यू:दो मंजिला घर की सीढ़ियों के पास कमरे के गेट पर रात भर बैठा रहा, परिवार के लोग दहशत में आए, स्नेक कैचर ने उड़ते उल्लू को पकड़कर चंबल किनारे रिलीज किया

कोटा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करीब डेढ़ फीट लम्बा उल्लू सीढ़ियों के पास बने कमरे के गेट पर जा बैठा। - Dainik Bhaskar
करीब डेढ़ फीट लम्बा उल्लू सीढ़ियों के पास बने कमरे के गेट पर जा बैठा।

शहर के दादाबाड़ी इलाके के एक दो मंजिला रिहायशी मकान में देर रात एक उल्लू आ गया। करीब डेढ़ फीट लम्बा उल्लू सीढ़ियों के पास बने कमरे के गेट पर जा बैठा। परिवार के लोग दहशत में आ गए। उन्होंने मकान के सभी दरवाजे खोल दिए। लेकिन उल्लू वहां से नही गया। परिवार के लोग अपने अपने कमरे में जाकर सो गए। सुबह उठ कर देखा तो उल्लू उसी जगह पर बैठा हुआ था।

स्थानीय पार्षद ने स्नेक कैचर गोविंद शर्मा को मौके पर बुलाया। करीब 10 मिनट की मशक्कत के बाद गोविंद ने उल्लू का रेस्क्यू किया। रेस्क्यू के दौरान उल्लू ने गोविंद शर्मा पर हमला किया। उल्लू ने दो जगह पंजे के नाखून से हमला किया। जिससे गोविंद के हाथ में खून आ गया।

करीब 10 मिनट की मशक्कत के बाद गोविंद ने उल्लू का रेस्क्यू किया।
करीब 10 मिनट की मशक्कत के बाद गोविंद ने उल्लू का रेस्क्यू किया।

गोविंद शर्मा ने बताया दादाबाड़ी इलाके में आसपास पेड़ पौधों की संख्या ज्यादा है। बड़े बड़े टावर लगे हुए। सम्भवतयाः ये उल्लू इन जगहों से उड़ता हुआ। मकान में आ गया। उल्लू की उड़ान स्लो रहती है। ये एक पेड़ से दूसरे पेड़ तक उड़ान भरता है। ज्यादा हाइट पर नहीं जाता। कमरे के गेट पर बैठे रहने के दौरान उल्लू को पकड़ने की कोशिश की तो उड़ गया। इसी दौरान उड़ते हुए उल्लू को पकड़ा। फिर चंबल गार्डन में चंबल नदी किनारे छोड़ा।

खबरें और भी हैं...