• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Son Was Returning After Getting Admission In Coaching, Foot Slipped While Boarding A Moving Train, Died Due To Serious Injuries To Hands, Feet, Head Kota Rajasthan

जल्दबाजी में मौत:बेटे का कोचिंग में एडमिशन करवाकर लौट रहे थे, चलती ट्रेन में चढ़ने के दौरान पैर फिसला

कोटा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक परवीन पचपदरा बाड़मेर के रहने वाले थे। लम्बे समय से कर्नाटक के बेलोरी में व्यापार करते थे। - Dainik Bhaskar
मृतक परवीन पचपदरा बाड़मेर के रहने वाले थे। लम्बे समय से कर्नाटक के बेलोरी में व्यापार करते थे।

चलती ट्रेन में चढ़ने के दौरान पैर फिसलने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक परवीन (41 )पचपदरा बाड़मेर के रहने वाले थे। लम्बे समय से कर्नाटक के बेलोरी में व्यापार करते थे। परवीन अपने बेटे का कोचिंग में एडमिशन करवाकर वापस बेलोरी लौट रहे थे। जयपुर मैसूर ट्रेन पकड़ते समय जल्दबाजी में पैर फिसल गया। ट्रेन के डिब्बे व प्लेटफार्म के बीच बने गेप में फंस गए। हाथ,पैर व सिर में गम्भीर चोट लगने से उनकी मौत हो गई। जीआरपी ने शव को एमबीएस की मोर्चरी में रखवाया है। और परिजनों को सूचना दी है।

जीआरपी एसआई गोपाल ने बताया कि परवीन का बेटा ललित (18) नीट की तैयारी कर रहा है। 25 नवंबर को परवीन अपने बेटे के साथ कोटा आए थे। 28 नवंबर को बेटे का कोचिंग में एडमिशन करवाया था। उसके बाद उसे हॉस्टल में दाखिल करवाया।29 नवंबर को रात को साढ़े ग्यारह बजे के करीब रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। उनके पास कन्फर्म टिकट नहीं था। जैसे ही जयपुर मैसूर ट्रेन स्टेशन पहुंची। वो ट्रेन में चढ़ने के लिए दौड़ पड़े। उन्होंने चलती ट्रेन में चढ़ने के प्रयास किया। इसी दौरान उनका पैर फिसल गया। ट्रेन के डिब्बे व प्लेटफार्म के बीच के गेप में गिर गए। उन्हें अस्पताल लाया गया। गम्भीर चोट लगने से उनकी मौत हो गई।