पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वारदात:प्रॉपर्टी डीलर को मारने आए थे बदमाश, कांस्टेबल ने पकड़ा तो उसे मार दी गोली

काेटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहला फायर मिस हुआ, शिवराज गैंग से जुड़े कैलाश मालवीय पर शक

शहर में प्रॉपर्टी विवाद में लगातार गैंगवार हो रही है। इसके लिए शिवराज और भानु गैंग आमने सामने हैं। शुक्रवार को सीआडीआईबी कांस्टेबल पर हुई फायरिंग के पीछे भी यही वजह सामने आ रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बदमाश प्रॉपर्टी डीलर सुभाष बागड़ी को मारने आए थे, इसी दौरान कांस्टेबल प्रमोद शर्मा को गोली लग गई। इस वारदात में अभी तक बदमाशों की पहचान नहीं हुई है, लेकिन पुलिस शिवराज गैंग पर ही शक जता रही है।

वारदात के बाद हुए प्राथमिक बयानों के अनुसार शाम करीब 7 बजे डीएवी स्कूल के कांस्टेबल प्रमोद शर्मा, प्रॉपर्टी डीलर सुभाष बागड़ी और एहतेशाम नामक एक व्यक्ति खड़ा था। इसी दौरान आए दो-तीन बदमाशों ने हमला कर दिया। उनका पहला फायर मिस हो गया। इसी दौरान कांस्टेबल ने एक बदमाश को पकड़ने की कोशिश की तो उसने पिस्टल से फायर कर दिया। गोली उसके सीने के नीचे लगी।

अभी तक बदमाशों की पहचान नहीं हुई है, लेकिन वारदात की छानबीन कर रही टीम में शामिल सूत्रों के अनुसार इस वारदात में कैलाश मालवीय का हाथ है। वो शिवराज गैंग से जुड़ा है, जबकि सुभाष बागड़ी का भानुप्रताप गैंग से संबंध है। मालवीय और बागड़ी में रंजिश चल रही है। हमलावर बागड़ी को ही मारने आए थे। पहला फायर मिस होने के बाद कांस्टेबल शर्मा ने बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया तो उन्होंने उसे गोली मार दी।

सोशल मीडिया पर कांस्टेबल के साथ मालवीय और बागड़ी का फोटो वायरल

आरोपों के घेरे में आ रहे कैलाश मालवीय ने अपनी फेसबुक के कवर पेज पर एक फाेटाे लगा रखा है। इसमें कांस्टेबल प्रमाेद शर्मा, प्रॉपर्टी डीलर बागड़ी व मालवीय साथ दिख रहे हैं। ये फोटो किसी पार्टी का है। ये फोटो तब की है जब मालवीय और बागड़ी में अच्छे संबंध थे और दोनों मिलकर जमीनों का सौदा करते थे।

साझे में खरीदे प्लॉट को लेकर हुई फायरिंग

सूत्राें के अनुसार पता चला है की प्रॉपर्टी डीलर सुभाष बागड़ी व खाई राेड निवासी कैलाश मालवीय ने मिलकर एक भूखंड खरीदा था,जाे कैलाश मालवीय के नाम बताया जा रहा है, लेकिन अब कैलाश मालवीय सुभाष काे उसका िहस्सा नहीं दे रहा है। ऐसे में इस भूखंड काे लेकर इन दाेनाें में विवाद चल रहा है। इस भूखंड काे लेकर इन दाेनाें के बीच में कई बार कहासुनी भी हाे चुकी है। सूत्राें के अनुसार सुभाष के भानुप्रताप गैंग से संबंध हैं। एेसे में अब यह भूखंड वर्चस्व साबित हाे रहा है।
दिसंबर में गैंगवार में हुई थी हिस्ट्रीशीटर रणवीर की हत्या

शिवराज और भानु गैंग के बीच वर्चस्व की लड़ाई में कई जानें जा चुकी हैं। 19 दिसंबर 2019 को भानु गैंग से जुड़े हिस्ट्रीशीटर रणवीर चौधरी की भी हत्या हुई थी। श्रीनाथपुरम स्टेडियम के सामने हुए इस हत्याकांड में शिवराज गैंग के बदमाश शामिल थे। दोनों गैंग के बीच 2009 से अदावत चल रही है। 2009 में भानुप्रताप गैंग ने बृजराजसिंह की हत्या कर दी थी। इसके बाद बृजराज के भाई शिवराज ने भानु की हत्या कर दी थी।

शिवराज गैंग से संबंध रखने पर कई पुलिसकर्मियों पर हो चुकी कार्रवाई

शिवराज और भानु गैंग के पुलिसकर्मियों के साथ अच्छे संबंध रहे हैं। गैंगस्टर रणवीर हत्याकांड में भी कई पुलिसकर्मियों की मिलीभगत की संभावना जताई गई थी। हत्याकांड के बाद आरोपियों के साथ सीआई जोधाराम, तत्कालीन एएसआई अजीत मोगा, रविन्द्र मलिक सहित अन्य कई पुलिसकर्मियों की फोटो भी वायरल हुई थी। इसके बाद बदमाशों से संबंध रखने के आरोप में सीआई जोधाराम को बर्खास्त किया गया था। कई पुलिसकर्मियों के तबादले भी हुए थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें