• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • The Trend Of Knife wielding Started Returning To The City, More Than 125 Incidents, The Police Campaign Is Still Reaching The Miscreants With Weapons

कोटा में बात-बात पर निकल रहे चाकू:शहर में फिर लौटने लगा चाकूबाजी का ट्रेंड, 125 से ज्यादा वारदातें

कोटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

कोटा शहर वर्तमान में शिक्षा नगरी के नाम से विख्यात है। लेकिन एक समय ऐसा भी था जब कोटा शहर बदमाशों, चाकूबाजी की वारदातों के लिए चर्चाओं में रहता था। शहर में चाकूबाजी का वही ट्रेंड फिर लौटने लगा है। शहर में छोटी छोटी बातों पर चाकू निकल रहे है, एक दूसरे पर जानलेवा हमले किए जा रहे हैं। नवंबर तक की बात करें तो करीब 125 वारदातें अब तक शहर में चाकूबाजी की हो चुकी है। पुलिस अवैध हथियारों की रोकथाम के लिए बार बार ऑपरेशन चलाती है, लेकिन पुलिस का अभियान भले ही रुक जाए, शहर में अवैध हथियारों का बदमाशों तक पहुंचना नही रूकता। चाकूबाजी के मामले कोटा प्रदेश में पहले नंबर पर है। पिछले तीन साल की बात करें तो वर्ष 2020 में चाकूबाजी के 109 मामले आए थे, जबकि इससे पहले 2019 में केवल 96 मामले थे। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि शहर में पुराना ट्रेंड लौटने लगा है।

कोटा पुलिस
कोटा पुलिस

पिछले 24 घंटे में तीन वारदातें
शहर में लगातार बढ़ रही चाकूबाजी की वारदातों से लग रहा है कि इन बदमाशों के सामने पुलिस लाचार है। शहर में मंगलवार रात से लेकर बुधवार रात तक के वक्त में चाकूबाजी की तीन वारदातें हुई। कुन्हाड़ी में वर्चस्व को लेकर दो गुटों में चाकू चले तो भीमगंजमंडी में रंजिश के चलते एक युवक पर चाकू से हमला किया गया। गुमानपुरा में सेवन वण्डर् के बाहर चाकू से हमला कर युवक को घायल कर दिया।
आसानी से मिल जाते है चाकू
शहर में वर्तमान में बदमाशों के छोटे छोटे गुट सक्रिय है। ये बदमाश आपसी वर्चस्व के लिए एक दूसरे पर हमला करते है। इसके अलावा कई बदमाश लोगों में रौब दिखाने, वारदातों को अंजाम देने और पुरानी दुश्मनी के मामलों में बदला लेने के लिए चाकूबाजी की वारदातों को अंजाम दे रहे है। छोटे छोटे गिरोहों के बदमाश गुप्ती, चाकू, छुर्री,खुंखरी का इस्तेमाल कर रहे है।
हाल में चलाए दो ऑपरेशन, अवैध हथियार बरामद
हाल में पुलिस ने ऑपरेशन कटिंग ऐज अभियान चलाया था। जिसमें अवैध हथियारों की तलाश कर बदमाशों के पास से बरामद किए थे। बदमाशों को पकड़ा और जेल भिजवाया। इसके अलावा भी हर रोज एक दो कार्रवाई पुलिस कर अवैध चाकू छुर्रे बरामद कर रही है। लेकिन इसके बाद भी शहर में वारदातें हो रही है। पुष्कर से भी ये अवैध हथियार कोटा लाए जाते हैं।

पुलिस गिरफ्त में चाकूबाजी के आरोपी
पुलिस गिरफ्त में चाकूबाजी के आरोपी

दो बदमाश गिरफ्तार
वहीं गुरुवार को पुलिस ने कार्रवाई करते हुए चाकूबाजी के दो आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। 6 नवंबर को राहुल गांधी पर जानेलवा हमला हुआ था। चाकू, तलवार व पाइप से उस पर हमला किया गया था। मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी चेतन उर्फ दीपक और देवेन्द्र मीणा को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से चाकू बरामद किया गया है।

शहर में चाकूबाजी की वारदातों के आरोपियों को पकड़कर कार्रवाई भी की जा रही है। अवैध हथियारों, बदमाशों के खिलाफ अभियान चलाया जाता है। पुलिस लगातार ऐसे अभियान चलाती रहेगी। एक्टिव बदमाशों को हमने चिन्हित कर लिया है। उन पर नजर रखी जा रही है। अवैध हथियार भी बरामद कर रहे हैं। डॉ.विकास पाठक,एसपी कोटा सिटी