पत्नी का दर्जा देने के नाम पर महिला से रेप:आरोपी SI से एक केस के दौरान मिली थी पीड़िता, शादी का किया था वादा

कोटा21 दिन पहले

एक महिला ने झालावाड़ महिला थाना के SI विजय सिंह चौधरी रेप का केस दर्ज कराया है। महिला का आरोप है कि मदद के नाम पर एसआई ने उसका शारीरिक शोषण किया है। दोनों एक-दूसरे को 6-7 साल से जानते हैं। पीड़िता ने आरोपी के खिलाफ कोटा शहर के विज्ञान नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। रिपोर्ट के मुताबिक जिंदगी भर साथ रहने का वादा किया था लेकिन अब वो मुकर रहा है। उधर, आरोपी SI का कहना है कि महिला से उधार के रुपए मांगे इसलिए आरोप लगाकर बदनाम कर रही है।

लेनदेन के केस के सिलेसिले में थाने में हुई थी मुलाकात

पीड़िता (43) ने बताया कि डेढ़ साल पहले उसके पति की मौत हो चुकी है। उसके दो बेटे हैं। इनमें से एक की शादी हो गई है। दूसरा बेटा 19 साल का है। पीड़िता पहले ब्याज पर रुपए देती थी। 2014 में किसी महिला द्वारा 7 लाख रुपए नहीं चुकाने पर उसकी शिकायत विज्ञान नगर थाने में दी थी। उस समय ASI विजय सिंह चौधरी (58) से मुलाकात हुई थी। विजय सिंह ने महिला से रुपए दिलवाने में मदद की और 26 हजार रुपए महीने के हिसाब से 17 महीने की किस्त बंधवाई थी। वो हर महीने किस्त के पैसे लेने थाने में विजय सिंह के पास जाती थी। इस कारण दोनों के बीच मुलाकातें होने लगीं।

ट्रिप पर बनाया शारीरिक संबंध और साथ रहने का वादा

विजय सिंह परिवार के साथ महिला के घर आने-जाने लगा। दोनों परिवार साथ में वैष्णो देवी, उज्जैन तक घूमने गए थे। महिला ने कहा है कि इन जगहों पर विजय ने शारीरिक संबंध बनाए और मरते दम तक साथ नहीं छोड़ने का वादा किया। यह बात विजय सिंह के घर वालों को पता चली तो उसकी पत्नी और बेटे ने मारपीट की। इसकी शिकायत कोटा के बोरखेड़ा थाने में दी थी। पारिवारिक पहचान होने के कारण राजीनामा हो गया।

बीवी बनाकर जीवन भर साथ देने के लिए बनाया स्टांप

पीड़िता का कहना है कि जब राजीनामा हो गया, तब भी विजय सिंह से उसका संपर्क था। इस घटना के बाद विजय सिंह ने वकील के जरिए 500 रुपए का स्टांप बनवाया, जिस पर दोनों की फोटो लगी थी। उसमें ये लिखा था कि वो मुझे पत्नी का दर्जा देगा। उसने लिखा था कि मैं पत्नी का दर्जा देने के साथ ही पूरी जिंदगी साथ दूंगा। पिछले एक महीने से वह अपने वादे से मुकर गया।

आरोपी SI की सफाई- मेरी बीवी ने दिए हैं पांच लाख

अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए SI विजय सिंह ने कहा है कि महिला से पारिवारिक संबंध था। उनकी पत्नी ने महिला को 5 लाख रुपए उधार रुपए दे रखे है, जिसमें से ढाई लाख खाते में डाले गए थे। अब महिला रुपए देने से इनकार कर रही है। साथ ही धमकी दे रही है कि झूठे आरोप लगा दूंगी। मैंने किसी भी स्टांप पर साइन नहीं किए। अगर फर्जी बनाया है तो कह नहीं सकता। विज्ञान नगर थाना सीआई महेश सिंह ने बताया की पीड़िता ने एसपी को शिकायत दी थी। इस पर विजय सिंह चौधरी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।