अलग अलग बयान दे रही नाबालिग:फिर होगी काउंसलिंग, मेडिकल भी कराया जाएगा, रामगंज मंडी स्टेशन मिली थी

कोटा3 महीने पहले
अलग अलग बयान दे रही नाबालिग

रामगंजमंडी रेलवे स्टेशन पर दस्तयाब की गई नाबालिग सीडब्ल्यूसी के समक्ष सही बात नहीं बता पा रही। पूछताछ में उसने बार-बार अलग बात कही। ऐसे में उसकी अब विशेषज्ञ द्वारा काउंसलिंग करवाई जाएगी।

बाल कल्याण समिति के रोस्टर सदस्य अरुण भार्गव ने बताया कि एक बालिका जिसकी उम्र 15 वर्ष है वह रामगंज मंडी पर ट्रेन से आई थी। रेलवे वालों ने उसको जीआरपी रामगंज मंडी के सुपुर्द किया। जब बालिका से बात की गई तो वह तरह-तरह की बात कर रही थी। पहले तो उसने अपने आप को उड़ीसा का रहने वाला बताया। बाद में उसने बताया कि झारखंड के टाटानगर प्लेटफार्म पर एक महिला ने मेरे को रोक रखा था। वह महिला वहां भीख मांगती है। उसी महिला ने इस बालिका की एक मंदिर में शादी करवा दी। उसके बाद बालिका वही रही प्लेटफार्म पर ही झाड़ू अन्य कार्य करती रही। उसको वहां पर एक महिला मिली उस महिला ने इसको कहा कि मेरे साथ चल मैं तेरे को दूसरा काम दिला दूंगी।

बालिका उसके साथ रामगंज मंडी आ गई। रामगंज मंडी से वह महिला गायब हो गई और जीआरपी पुलिस ने इसको दस्तियाब कर लिया। सीडब्ल्यूसी के समक्ष पेश किया गया जहां से उसे बालिका गृह में आश्रय दिलाया गया है। बालिका की काउंसिलिंग के साथ ही मेडिकल भी करवाया जाएगा। बालिका ने यह भी बताया कि उसके माता-पिता नहीं है। घर में भी कोई नहीं है। ऐसे में उसके द्वारा बताई गई बातों की पुष्टि भी करवाई जा रही है।