• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Those Whom The Police Were Looking For Reached The Police Station, Had Put A Lock In The ACE Office, Got Arrested And Banned.

गिरफ्तारी देने पहुंचे कार्यकर्ता:पुलिस जिनकी तलाश में जुटी थी वही पहुंचे थाने, A.C.E ऑफिस में लगाया था ताला

कोटा15 दिन पहले
गिरफ्तारी देने पहुंचे कार्यकर्ता।

कोटा में बीजेपी युवा मोर्चा कार्यकर्ता शुक्रवार को अपनी गिरफ्तारी देने के लिए दादाबाड़ी थाने पहुंचे। जलदाय विभाग के ऑफिस में प्रदर्शन के मामले में इनके खिलाफ शांति भंग में मामला दर्ज हुआ था। मामले में पुलिस इनकी जांच व तलाश कर रही थी, इसी बीच शुक्रवार को ये कार्यकर्त्ता गिरफ्तारी देने पहुंच गए।

पुलिस के अनुसार युवा मोर्चा कार्यकर्ता नमन शर्मा समेत 6 कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। शुक्रवार को इन्हें गिरफ्तार कर पाबंद करवाया गया है। गौरतलब है कि कोटा में फ्लोराइड युक्त पानी की सप्लाई और कम दबाव से जलापूर्ति को लेकर भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता बुधवार को दादाबाड़ी स्थित जलदाय विभाग के ऑफिस में पहुंचे थे जहां अतिरिक्त मुख्य अभियंता महेश जांगिड़ के ऑफिस में पहुंचकर उन्हें कमरे से बाहर निकल कर कमरे के ताला लगा दिया था।

गिरफ्तारी देने पहुंचे कार्यकर्ताओं ने कहा कि जलदाय विभाग के अधिकारी शहर के लोगों को गंदा पानी पिला रहे हैं। कई बार कहने के बाद भी समाधान नहीं किया जा रहा है। लेकिन जब लोग प्रदर्शन करने जाते हैं तो उनके खिलाफ अधिकारी मामला दर्ज करवा देते हैं। लेकिन बीजेपी कार्यकर्ता मुकदमों से नहीं डरते और लोगों की समस्या को लेकर आवाज उठाते रहेंगे।

राजावत मामले में अभी तक सिर्फ जांच

वहीं दादाबाड़ी थाने में ही दर्ज पूर्व विधायक भवानी सिंह राजावत के खिलाफ मुकदमे में अभी तक पुलिस जाँच पूरी नहीं कर पायी है। पुलिस का मामले में यही कहना है कि अभी जांच चल रही है। 27 दिसंबर को बीजेपी के पूर्व विधायक भवानी सिंह राजावत ने भी लोगों के साथ जलदाय विभाग के ऑफिस में प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्होंने अतिरिक्त मुख्य अभियंता महेश जांगिड़ को फ्लोराइड युक्त पानी पिला दिया था। इस मामले में दादाबाड़ी थाने में मुकदमा भी दर्ज करवाया गया था।