पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उत्तर नगरनिगम 5 और दक्षिण 7 एंटी स्मॉग गन खरीदेगा:हवा शुद्ध करने के लिए काेटा में लगेंगी 12 एंटी स्माॅग गन, 3 करोड़ रुपए होंगे खर्च

कोटा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बढ़ते पाॅल्यूशन को कम करने के लिए अगले 3 माह में शहर में 12 एंटी स्मॉग गन लगाई जाएंगी। इस गन से हवा में घुलने वाले जहरीले कणों को खत्म किया जाएगा। इस पर करीब 3 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इनमें से कुछ मशीनें तो उन स्थानों पर स्थायी रूप से फिट की जाएंगी, जहां अधिक प्रदूषण होता है। बाकी मशीनें पोर्टेबल रहेंगी जो जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल होंगी। पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड की तरफ से संसाधन खरीदने के लिए कोटा के दाेनाें नगर निगमाें काे 54 कराेड़ रुपए मिले हैं। उत्तर नगर निगम 5 और दक्षिण 7 एंटी स्माॅग गन खरीदेगा।

ऐसे काम करती है स्माॅग गन

वाटर टैंक से जुड़ी एंटी स्मॉग गन हवा में पानी की बेहद महीन बौछार करती है। एयर प्रेशर के साथ निकली पानी की बौछार से पैदा हुई नमी की वजह से धूल और पॉल्यूशन बढ़ाने वाले तत्वों के सूक्ष्म कण जमीन पर बैठ जाते हैं। एंटी स्मॉग गन से निकली बौछार हवा में करीब 50 मीटर ऊपर तक जा सकती है। जिससे करीब 3 किलाेमीटर तक के इलाके की हवा में हाे रहे प्रदूषण काे कम किया जा सकता है। काेटा उत्तर और दक्षिण नगर निगम द्वारा खरीदे जाने वाली एंटी स्माॅग गन में से 3-3 ताे स्थायी हाेंगी और 3-3 मूवेबल हाेंगी, ताकि जहां जरूरत हाे वहां पहुंचाकर पाॅल्यूशन कम किया जा सके।

6 स्थानों पर लगेगी स्थायी गन

इनमें से 6 बड़ी स्माॅग गन ताे उन क्षेत्राें में स्थायी ताैर पर लगाई जाएगी, जहां हमेशा पाॅल्यूशन ज्यादा रहता है। इनमें नांता स्थित ट्रेंचिंग ग्राउंड, थेगड़ा व ट्रांसपाेर्टनगर का कचरा ट्रांसफर स्टेशन, औद्याेगिक क्षेत्र और भामाशाहमंडी क्षेत्र शामिल है। इन जगहाें पर प्रदूषण का स्तर अन्य स्थानाें के मुकाबले डेढ़ से दाे गुना तक ज्यादा रहता है।

खबरें और भी हैं...