पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहली बार कोविड का ऐसा इफेक्ट:थक्के जमने से युवक के पैर की नस ब्लाॅक, चलना भी मुश्किल

काेटाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना से रिकवर मरीजाें में अब तक कई तरह के साइड इफेक्ट रिपाेर्ट हुए हैं, लेकिन उनमें से ज्यादातर लंग्स से रिलेटेड ही सामने आए हैं। अब काेटा में एक युवा में ऐसा साइड इफेक्ट सामने आया है, जाे अब तक स्थानीय स्तर पर कभी रिपाेर्ट नहीं हुआ। एक 22 साल का युवा पैर में सूजन आने की समस्या लेकर डाॅक्टर के पास पहुंचा ताे सामने आया कि यह पाेस्ट काेविड डीप वेन थ्राेंबाेसिस (डीवीटी) है। युवक के पैर में इस कदर सूजन है कि चलना भी मुश्किल हाे रहा है।

वरिष्ठ अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. जसवंत सिंह ने बताया कि यह युवक 21 अप्रैल को पॉजिटिव आया था और रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी। यह मरीज मेरे यहां आया। हालांकि लक्षणाें के हिसाब से उसमें अब भी काेविड के सिम्पटम थे। उसने बताया कि दाे-तीन दिन से पैर में सूजन है और चलने-फिरने में दिक्कत है। एग्जामिन किया ताे पता चला कि उसके जांघ की मेजर वेन में ब्लाॅक हाे गया है, जिससे सूजन आई है।

काेविड में कई तरह के क्लाॅट्स हाेते हैं, लेकिन इस तरह का केस काेराेना की शुरुआत से अब तक पहला ही आया है। अब मरीज काे खून पतला हाेने की दवाइयां शुरू की गई है, 10 दिन की दवा से आराम नहीं आता ताे फिर माइनर सर्जरी करनी होगी।

खबरें और भी हैं...