कोटा में पुलिस रखेगी ऑटो ड्राइवर के रिकॉर्ड:कोटा में 10 हजार ऑटो चालकों का किया जाएगा वेरिफिकेशन, 31 जनवरी तक कराना होगा

कोटा10 महीने पहले
पुलिस रखेगी ऑटो चालकों के रिकॉ

कोटा में अब ऑटो चालकों का वैरिफिकेशन पुलिस करेगी। कोटा में दस हजार ऑटो ड्राइवर के रिकॉर्ड पुलिस के पास रहेगा। इसके लिए ऑटो यूनियन की मीटिंग लेकर यातायात पुलिस 31 जनवरी तक सभी ऑटो चालकों का रिकॉर्ड यातायात पुलिस उपाधीक्षक कार्यालय में जमा करवाने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल, कोटा में 10 हजार ऑटो चलते हैं। लेकिन इनके रिकॉर्ड पुलिस के पास नहीं है। कई बार ऑटो में चोरी, मारपीट, महिलाओं से छेड़छाड़ या अन्य आपराधिक वारदातों की शिकायतें सामने आती है। कई बार ऑटो चालकों को ट्रेस करने में काफी दिक्कत भी होती है और वारदात को सुलझाने में समय लग जाता है। ऐसे में अब पुलिस यह व्यवस्था कर रही है।

इसमें ऑटो मालिक, ऑटो चालक का लाइसेंस फोटो और रजिस्ट्रेशन की कॉपी जमा करवानी होगी। इनका पुलिस वैरिफिकेशन किया जाएगा कि इन पर कोई आपराधिक मामला तो नहीं है। इससे पुलिस के पास सभी ऑटो चालकों की डिटेल मौजूद होगी और किसी भी आपात स्थिति में ऑटो चालकों को ट्रेस किया जा सकेगा।

किरायेदारों और नौकरों का भी हो रहा वेरिफिकेशन

कोटा में वर्तमान में घरेलू नौकरों और किरायेदार का वैरिफिकेशन करवाना भी जरूरी कर दिया है। एसपी केसर सिंह ने जॉइनिंग करने के साथ ही आदेश जारी किए थे कि कोटा के सभी मकान मालिक और फर्म अपने यहां काम करने वाले नौकर और रहने वाले किरायेदार का वैरिफिकेशन करवाएंगे। ऐसे नहीं करवाने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।