रुपए लेकर कर रहे थे शादी,नाबालिग ने घर छोड़ा:घर से भागकर झालावाड़ पहुंची बालिका, घरवालों ने गुमशुदगी दर्ज कराई तो खुद थाने पहुंची

कोटा3 महीने पहले
बालिका को बालिका गृह में आश्रय दिया गया है  - Dainik Bhaskar
बालिका को बालिका गृह में आश्रय दिया गया है 

कोटा की जवाहर नगर इलाके से 17 जून को घर से लापता हुई नाबालिग को पुलिस ने दस्तियाब कर लिया। बालिका के घर वाले रुपए लेकर उसकी शादी करवाना चाह रहे थे। इसके चलते वह घर से भाग गई। बालिका को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया जहां से उसे बालिका गृह भिजवाया गया है।

बाल कल्याण समिति सदस्य विमल चंद जैन ने बताया कि 17 साल की बालिका कुछ दिन पहले घर से बिना बताए निकल गयी थी। इसके बाद वहां झालावाड़ अपनी बहन के पास चली गई। इधर परिजनों ने स्थानीय स्तर पर उसकी तलाश की और पता नहीं लगा तो थाने में गुमशुदगी दर्ज करवा दी। बालिका को जब पता लगा कि थाने में उसके लापता होने की रिपोर्ट दी गई है तो वह खुद थाने पहुंची और अपनी मर्जी से जाना बताया।

बालिका से जब पुलिस ने जाने का कारण पूछा तो उसने कहा कि घरवाले जबरन उसकी शादी कराना चाहते थे। बालिका को सीडब्ल्यूसी के समक्ष पेश किया। प्रारंभिक काउंसलिंग में उसने बताया कि उसके घर वाले एक लाख रुपए लेकर उसकी शादी करवाना चाह रहे थे।

उसने इंकार किया तो उसे डांटा गया। जिसके बाद वह खुद घर से भाग गई। बालिका ने अपने माता-पिता के साथ जाने से भी इनकार किया है और अपनी नानी के पास जाने की बात कही है। फिलहाल बालिका को बालिका गृह में भिजवाया गया है। मामले में पुलिस जांच कर रही है।