पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना की जंग में बन रहे मददगार:युवाओं में दिखा उत्साह, पहले दिन 91% ने लगवाई वैक्सीन, अगले दो दिन के स्लॉट भी 90 प्रतिशत फुल

काेटा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काेटा में 18 प्लस वालाें के टीकाकरण के पहले दिन रविवार काे शहर के युवाओं ने जबर्दस्त उत्साह दिखाया। चिकित्सा विभाग की ओर से आवंटित लक्ष्य के मुकाबले 91 प्रतिशत युवाओं ने टीका लगवा लिया। सबसे अहम बात यह रही कि सभी सेल्फ रजिस्ट्रेशन करके ही साइट पर पहुंचे।

यदि ऑन स्पाॅट रजिस्ट्रेशन किया जाता ताे संभव था कि 100 प्रतिशत टीकाकरण हाे जाता। हालात यह थी कि टीका लगवाने के लिए डिस्पेंसरियाें पर सुबह से ही लंबी कतारें लग गई। कुछ डिस्पेंसरियाें पर ताे भीड़ काे कंट्राेल करने के लिए पुलिस तक लगानी पड़ी। अगले दो दिन के सभी स्लॉट भी लगभग फुल हैं।

आरसीएचओ डाॅ. देवेंद्र झालानी ने बताया कि रविवार काे 18 से 44 वर्ष वालाें के टीकाकरण के लिए 15 साइट ओपन की गई थी, प्रत्येक साइट काे 250 लाेगाें काे टीका लगाने का लक्ष्य आवंटित था। इस हिसाब से सभी 15 साइट पर 3750 लाेगाें काे टीका लगना था, इसके मुकाबले 3415 ने टीका लगवा लिया। ये सभी काेविन पाेर्टल पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन करके पहुंचे थे। इनके समेत 46 साइट पर टीके लगे। इनमें 4322 लाभार्थियों को पहली और 1700 को दूसरी डोज लगाई गई।

आज 26 जगह लगेगा 18 प्लस को टीका

सोमवार को जिले में 55 साइट पर टीका लगेगा। इनमें 26 साइट 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए हाेगी। ये ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के जरिए ही टीका लगवा पाएंगे। वहीं, 29 साइट पर 45 से अधिक आयु वर्ग के व्यक्तियों को टीका लगाया जाएगा।

18 प्लस वालों को राजकीय पीजी नर्सिंग कॉलेज, न्यू मेडिकल कॉलेज एसएसबी, रामपुरा जिला अस्पताल, दादाबाड़ी, विज्ञान नगर, भीमंगजमंडी, तलवंडी, कुन्हाड़ी, बोरखेड़ा, गोविंद नगर, शॉपिंग सेंटर, काला तालाब, रंगबाड़ी, महावीर नगर डिस्पेंसरी, ग्रामीण क्षेत्र में कनवास, रामगंजमंडी, सुल्तानपुर, कैथून, सांगोद, इटावा, दीगोद, चेचट, मोड़क, खातौली, मंडाना व सुकेत स्वास्थ्य केंद्रों पर टीका लगेगा।

मिसाल - 5 दिन पहले मां का निधन, काम पर लाैटे आरसीएचओ डॉ. झालानी, बाेले-अभी ड्यूटी ज्यादा जरूरी

डाॅ. झालानी की मां कांति बाई का 28 अप्रैल काे निधन हुआ, वे लंबे समय से बीमार थीं। मां के निधन के 5 दिन बाद ही डाॅ. झालानी रविवार काे ड्यूटी पर आ गए और फील्ड में नजर आए। उन्हाेंने शहर के विभिन्न वैक्सीनेशन सेंटर्स का जायजा लिया और 18 प्लस युवाओं के टीकाकरण से जुड़ी व्यवस्थाएं देखी। उन्हें देख डिस्पेंसरियाें का स्टाफ भी हैरान था, क्योंकि हर काेई यह मान रहा था कि वे 12 दिन बाद ही लाैटेंगे।

भास्कर ने डाॅ. झालानी से पूछा ताे उन्हाेंने कहा कि इस वक्त ड्यूटी से ज्यादा जरूरी कुछ भी नहीं है। मेरे पास काेविड वैक्सीनेशन से जुड़ा काम है और इस वक्त यह सबसे महत्वपूर्ण है। सरकार ने रविवार से ही 18 प्लस युवाओं का टीकाकरण शुरू किया है, ऐसी स्थिति में मैनेजमेंट करना बेहद जरूरी था। घर वालाें काे समझाने में सामान्य दिक्कत जरूर आती है, लेकिन वे समझ गए। असल में हम लाेगाें में निधन के बाद 12 दिन तक चप्पल-जूते नहीं पहनते, लेकिन माैजूदा परिस्थितियाें में ड्यूटी काे देखते हुए मुझे यह नियम भी ताेड़ना पड़ा।

जागरूकता बढ़ाने का प्रयास

शहर को कोरोना से बचाने के लिए अपनी शादी तक कैंसिल कर दी इन युवाओं ने

देश में काेराेना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। अस्पतालों में जगह नहीं बची है। ऐसे में शहर के युवाओं ने बढ़ते संक्रमण काे राेकने के लिए अपनी शादियां कैंसिल कर दी हैं। वे चाहते हैं कि शहर के लाेग सरकार की अपील काे ध्यान में रखें और जागरूक बनें। शादी कैंसिल करने वाले युवाओं काे उम्मीद है कि उनके इस कदम से लाेगाें में जागरूकता बढ़ेगी और लाेग गाइडलाइन का पालन करेंगे, जिससे जल्दी से देश काे काेराेना मुक्त किया जा सके। जानकाराें की मानें ताे मई-जून में करीब 300 शादियां टलेंगी।

संक्रमण नहीं फैले, इसलिए लिया फैसला

लाडपुरा के सनत जैन ने बताया कि उनकी शादी 9 मई काे मध्यप्रदेश की वेनिला जैन से हाेने वाली थी। मैरिज गार्डन व अन्य सब चीजें बुक करवा रखी थीं। आधी से ज्यादा रस्म पूरी हाे गई थी। लेकिन जब देखा कि प्रदेश के हालात इतने खराब हाे चुके हैं ताे शादी टालने का फैसला लिया। क्याेंकि शादी में कुछेक लाेग एकत्र हाेंगे। इससे संक्रमण फैलने का खतरा रहेगा।

अप्रैल-मई में करीब 300 शादियां कैंसिल

टेंट डीलर्स एसाेसिएशन के अध्यक्ष साैरभ पाेरवाल ने बताया कि लाेग राेज शादियां कैंसिल कराने के लिए आ रहे हैं। सरकार की अपील का बहुत असर दिखने का मिल रहा है। युवा पीढ़ी इस निर्णय के लिए आगे आई है। दाे महीने में 300 शादियां कैंसिल हाे रही हैं।

शादी ताे बाद में भी कर सकते हैं, फिलहाल लाेगाें काे बचाना जरूरी

वल्लभबाड़ी के रेलिक जैन की शादी 7 मई काे साक्षी जैन से हाेनी थी। शादी की सारी तैयारियां हाे चुकी थीं। शादी के लिए वैवाहिक स्थल, हलवाई, टेंट, बैंड बुक थे। रेलिक ने बताया कि जब मुख्यमंत्री ने इस तरह से अपील की ताे लगा कि इस समय शादी से बड़ा काेराेना काे राेकने का काम है। इसलिए परिवार वालाें काे कह दिया कि फिलहाल शादी नहीं करेंगे। जब तक काेराेना बिलकुल कम या खत्म नहीं हाे जाता, तब तक शादी नहीं करेंगे। फिलहाल शादी टाल दी है। इससे पूरा परिवार भी खुश है कि आगे शादी धूमधाम से करेंगे।

परिवार और शहर की बेहतरी के लिए नवंबर तक टाल दिया शादी समारोह

तलवंडी की अपूर्वा गाैतम की शादी 13 मई जयपुर के हर्ष के साथ हाेने वाली थी। लेकिन काेराेना के बढ़ते संक्रमण और अस्पतालों में हाे रही दुर्दशा काे देखते हुए अपूर्वा व हर्ष ने शादी बाद में करने का निर्णय लिया। अपूर्वा की मां गायत्री ने बताया कि शादी की पूरी तैयारी हाे चुकी थी। कार्ड छप चुके थे और गणेश जी भी घर में बैठा दिए थे। शादी के लिए जरूरी चीजें बुक करा दी थी। लेकिन अब जब इतना प्रकाेप हाे रहा है ताे बच्चाें ने शादी फिलहाल टालने की बात कही ताे नवंबर तक शादी टाल दी है। बच्चाें का कहना है कि ऐसा करके शहर में काेराेना फैलाने में सहायक बनेंगे।

योग थैरेपी से उपचार

विवि के कोविड केयर सेंटर में संगीत, योग व पॉजिटिव स्पीच से मरीजों को दे रहे हिम्मत

कोविड केयर सेंटर में रोगियों को योग-संगीत एवं मनोरंजन द्वारा पॉजिटिव माहौल देने का प्रयास किया जा रहा है। रविवार सुबह एलन स्टूडेंट्स वेलफेयर सोसायटी (एएसडब्ल्यूएस) के योग प्रशिक्षक ने संगीत की मधुर ध्वनियों के बीच मरीजों के परिजनों को योग, प्राणायाम, अनुलाम-विलोम सहित अन्य आसन कराए। सेंटर पर तीन वार्ड बनाए गए हैं। मरीजों व उनके परिजनों को अच्छा माहौल देने के लिए तीनों वार्ड में टीवी भी लगाए गए हैं। जिनमें समय-समय पर आध्यात्मिक कार्यक्रम, संत व महापुरुषों के प्रवचनों का प्रसारण किया जाता है।

रविवार सुबह एलन के निदेशक नवीन माहेश्वरी भी कोविड केयर सेंटर पहुंचे। उन्होंने व्यवस्थाओं का जायजा लिया और अपनी टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहीं, शाम को कलेक्टर उज्जवल राठौड़, प्रिंसिपल डॉ. विजय सरदाना, सीएमएचओ डॉ. बीएस तंवर समेत अन्य अधिकारी पहुंचे।
आज से मेडिकल कॉलेज संभालेगा कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाएं, 21 डॉक्टर, 20 नर्सिंग स्टूडेंट्स और फार्मासिस्ट की ड्यूटी लगाई

इस सेंटर के लिए सर्जरी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अतुल शर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। साथ ही रमेश चंद गुप्ता को नर्सिंग अधीक्षक लगाया गया है। यहां मेडिकल कॉलेज की नॉन क्लीनिकल ब्रांचों से 21 डॉक्टर लगाए गए हैं और फाइनल ईयर नर्सिंग के 20 स्टूडेंट्स तैनात किए गए हैं। साथ ही दवाइयों व अन्य कंज्यूमेबल्स की उपलब्धता के लिए एक फार्मासिस्ट व उसके साथ दो सहायक लगाए गए हैं।

रविवार तक यहां 80 मरीज एडमिट हो चुके थे। प्रिंसिपल ने बताया कि कोविड केयर सेंटर में अभी 250 बेड्स लगवा रहे हैं, लेकिन मौजूदा स्थिति के हिसाब से ये बेड भी दो दिन में भर जाएंगे। ऑक्सीजन की दिक्कत फिर से आने लगी है, क्योंकि अब कुछ सिलेंडर वहां भी खर्च हो रहे हैं, जबकि सप्लाई वही मिल रही है।

कोटा यूनिवर्सिटी में शुरू किए गए कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाएं सोमवार से मेडिकल कॉलेज की टीम संभालेगी। इसके लिए मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. विजय सरदाना ने रविवार को अलग-अलग ऑर्डर जारी करके वहां डॉक्टरों व स्टाफ लगा दिया।

इस सेंटर के लिए सर्जरी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. अतुल शर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। साथ ही रमेश चंद गुप्ता को नर्सिंग अधीक्षक लगाया गया है। यहां मेडिकल कॉलेज की नॉन क्लीनिकल ब्रांचों से 21 डॉक्टर लगाए गए हैं और फाइनल ईयर नर्सिंग के 20 स्टूडेंट्स तैनात किए गए हैं। साथ ही दवाइयों व अन्य कंज्यूमेबल्स की उपलब्धता के लिए एक फार्मासिस्ट व उसके साथ दो सहायक लगाए गए हैं। रविवार तक यहां 80 मरीज एडमिट हो चुके थे।

प्रिंसिपल ने बताया कि कोविड केयर सेंटर में अभी 250 बेड्स लगवा रहे हैं, लेकिन मौजूदा स्थिति के हिसाब से ये बेड भी दो दिन में भर जाएंगे। ऑक्सीजन की दिक्कत फिर से आने लगी है, क्योंकि अब कुछ सिलेंडर वहां भी खर्च हो रहे हैं, जबकि सप्लाई वही मिल रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें