एहतियात / उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश से पहुंचे 22 लोगों की स्क्रीनिंग, होम क्वारेंटाइन किया

Screening of 22 people from Uttar Pradesh and Madhya Pradesh, done home quarantine
X
Screening of 22 people from Uttar Pradesh and Madhya Pradesh, done home quarantine

  • रामगंजमंडी में अब बाहर से आने लगे लोग, चेकपोस्ट पर ही स्क्रीनिंग
  • जागरुकता: अगर आप बाहर से आए हैं तो प्रशासन-चिकित्सा विभाग को दें सूचना

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:45 AM IST

रामगंजमंडी. लॉकडाउन 4 में रियायत मिलने के बाद अब लंबे समय से प्रदेश के बाहर फंसे श्रमिक, आमजन और स्टूडेंट्स घरों को लौटने लगे हैं। बीते तीन दिनों में प्रदेश के बाहर से 22 लोग आए, इनको चिकित्सा विभाग ने होम क्वारेंटाइन किया है। इससे पहले इनकी स्क्रीनिंग की गई थी। वहीं, उंडवा चेकपोस्ट पर मध्यप्रदेश से आने वाले लोगों को कड़ी जांच के बाद प्रवेश दिया जा रहा है। मौके पर ही स्क्रीनिंग की जा रही है, अगर कोई संदिग्ध दिखेगा है तो उसे कोटा भेजा जाएगा। 
बीसीएमओ डॉ. रईस खान ने बताया कि मध्यप्रदेश, यूपी समेत देश के अन्य प्रदेशों से अब श्रमिक और अन्य लोग उपखंड क्षेत्र में आने लगे हैं। प्रशासन के निर्देशानुसार बाहर से आने वालों की स्क्रीनिंग का काम किया जा रहा है। सुकेत के सलावद खुर्द में एक साथ 11 लोग आए थे। उनको भी जांच के बाद होम क्वारेंटाइन किया है।

इसी प्रकार दो युवकों के झालावाड़ पहुंचने पर उनकी वहीं पर जांच की गई थी। सुकेत कस्बे में एक दंपती मुंबई से आए हैं, उनको भी घर पर 14 दिन चिकित्सा विभाग की निगरानी में रखा गया है। दो बेटियां इंदौर में पढ़ाई कर रही थीं, वह दोनों भी अपने घर पहुंची हैं। कुल मिलाकर 22 लोगों को होम क्वारेंटाइन किया गया है। 
उंडवा चेकपोस्ट पर कडी निगरानी 
मध्यप्रदेश की सीमा पर लगने वाले उंडवा में पुलिस ने चेकपोस्ट बनाई है। यहां पर पुलिस और अन्य कर्मचारी बाहर से आने वालों की जांच कर रहे हैं। बिना ई-पास किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। बाहर से आने वालों के मेडिकल सर्टिफिकेट देेखे जा रहे हैं। यहां आने का कारण और अन्य वजह पूछी जा रही है।
^बाहर से आने वाले लोगों को उपखंड क्षेत्र में प्रवेश देने से पहले नियमानुसार प्रक्रिया से गुजरना होगा। अगर कोई व्यक्ति बिना जांच-स्क्रीनिंग के चुपचाप बाहर से आकर घर आ गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। चेकपोस्ट पर जांच जारी है, वहीं, चिकित्सा टीमें लगातार स्क्रीनिंग कर रही हैं। - सीएल मीणा, उपखंड अधिकारी, रामगंजमंडी
तेज गर्मी में जुटे हैं कोरोना योद्धा, निशुल्क सेवा
45 डिग्री से ज्यादा तापमान होने के बाद भी सुकेत क्षेत्र में कोरोना योद्धा ड्यूटी कर रहे हैं। सलावद खुर्द में शनिवार को एक साथ 11 लोग दूसरे राज्य से यहां पहुंचे थे। ऐसे में भरी दुपहरी में चिकित्सा कर्मचारियों और आशा सहयोगिनियों ने इनकी स्क्रीनिंग की। एएनएम सिल्विया, आशा सहयोगिनी क्रस्टिना ने बताया कि हमारी टीम ने सभी लोगों की स्क्रीनिंग कर दी है। साथ ही अब रोजाना विभाग की ओर से इन लोगों के घर जाकर जांच की जाएगी। वहीं, सुकेत के युवा चिकित्सा टीम के साथ मिलकर निशुल्क सेवाएं दे रहे हैं। युवा विशाल चांडक, जयेश गौतम, अजय बैरागी और कन्हैया रेगर दो महीने से समाजसेवा का काम कर रहे हैं। 
इधर, पैदल ही जा रहे श्रमिक
राजस्थान परमाणु विद्युत परियोजना में कार्यरत अधिकांश श्रमिक लॉकडाउन के चलते अपने घर अपने साधनों से निकल गए है। जो अपने परिवार के सदस्यों के पास पहुंच गए है। अभी भी छुटपुट श्रमिक घर जा रहे है। शुक्रवार को भी दो श्रमिक पंजाब के लिए पैदल तमलाव केंप से तड़के 2 बजे निकले। जो कोटा बेरियर पर 6 बजे पहुंचे थे। बस का साधन नहीं मिला। तो पैदल ही कोटा के लिए रवाना हो गए।

शनिवार को सुबह बिहार मोतीहारी जिले के पप्पूलाल भी पैदल जा रहे थे। काेटा जाने के लिए बस या किसी साधन का इंतजार कर रहे थे। साधन नहीं मिला तो पैदल ही बाडौलिया से निकल गए। उन्होंने बताया कि पिछले 7 सालों से वह गेमन कंपनी में ट्रेक्टर चालक के पद पर कार्य कर रहे थे। अब अपने घर जा रहे है। कोटा से ट्रेन का साधन मिल जाएगा। जिससे अपने घर जाएंगे। शुक्रवार को भी एक बस में 30 श्रमिक उत्तरप्रदेश के लिए रवाना हुए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना