रावतभाटा में कोरोना की दस्तक / परमाणु बिजलीघर कैंटीन कर्मचारी के पिता जयपुर में इलाज के दौरान मिले पॉजिटिव

रावतभाटा. परमाणु बिजलीघर की कॉलोनी में एक मकान को सील किया गया और ब्लॉक को सेनेटाइज किया गया। रावतभाटा. परमाणु बिजलीघर की कॉलोनी में एक मकान को सील किया गया और ब्लॉक को सेनेटाइज किया गया।
X
रावतभाटा. परमाणु बिजलीघर की कॉलोनी में एक मकान को सील किया गया और ब्लॉक को सेनेटाइज किया गया।रावतभाटा. परमाणु बिजलीघर की कॉलोनी में एक मकान को सील किया गया और ब्लॉक को सेनेटाइज किया गया।

  • शहर में हड़कंप, जीरो मोबिलिटी घोषित, संपर्क में आए 16 लोगों के सैंपल लिए

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 08:12 AM IST

रावतभाटा. राजस्थान परमाणु बिजलीघर के कैंटीन कर्मचारी के 79 वर्षीय पिता जयपुर में इलाज के दौरान पॉजिटिव मिले हैं। इससे रावतभाटा में हड़कंप मच गया। रावतभाटा में यह पहला केस मिला है, जिसका सीधा संपर्क रावतभाटा से है। रविवार रात 12:30 बजे सूचना मिली कि जयपुर में निजी अस्पताल में रावतभाटा के भर्ती बुजुर्गों को कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

पिता को भर्ती कराने पहुंचे राजस्थान परमाणु बिजलीघर कैंटीन कर्मचारी पिता को भर्ती कराकर वापस रावतभाटा लौट गए थे। 
 यह खबर मिलते ही कर्मचारी के आवास टाइप टू-48 के आसपास के घरों को सील कर दिया। इलाके को पूरी तरह से सेनेटाइज कराया गया है। वहीं, कर्मचारी और उसके परिवार के सदस्यों एवं उनके संपर्क में आए 16 लोगों के सैंपल लिए गए। प्रशासन ने बुजुर्ग के निवास स्थान झालर बावड़ी और कॉलोनी ब्लॉक के आसपास को जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित कर दिया गया।

बुजुर्गों को 26 जून को जयपुर में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। 27 जून को पहली रिपोर्ट नेगेटिव मिली थी। लेकिन 28 जून को दोबारा जांच कराने पर पॉजिटिव मिला .जिसके बाद कर्मचारी पिता को कोटा मेडिकल कॉलेज में कोरोना वार्ड में भर्ती करा दिया गया।

कैंटीन ड्यूटी पर भी गया था कर्मचारी
परमाणु बिजलीघर का कैंटीन कर्मचारी पिता को जयपुर छोड़ने के बाद ड्यूटी भी गया था। कहां कहां संपर्क में रहा ।इसकी हिस्ट्री तलाशी जा रही है। कैंटीन को भी फिलहाल बंद कर दिया गया है। कर्मचारी पिता जयपुर में इलाज के दौरान पॉजिटिव हुए या रावतभाटा से ही पॉजिटिव होकर गए यह भी जांच किया जाना बाकी है। वहीं, कर्मचारी के बुजुर्ग पिता बीमार थे और झालरबावड़ी चारभुजा में मंदिर के पास रहते थे। वह कॉलोनी में नहीं गए थे। इस जानकारी के बाद चारभुजा मंदिर का क्षेत्र सील कर दिया गया।

धारा 144, जीरो मोबिलिटी घोषित 
रावतभाटा में कोरोना की दस्तक होते ही। प्रशासन सख्त हो गया और धारा 144 घोषित कर दी गई। एसडीएम रामसुख गुर्जर ने बताया कि टाइप टू 48 अणु किरण कॉलोनी के समान क्षेत्र में एवं झालरबावड़ी चारभुजा मंदिर का क्षेत्र जीरो मोबिलिटी घोषित किया गया है। इसके 300 मीटर क्षेत्र में प्रवेश वर्जित रहेगा। चारभुजा मंदिर को अगले आदेश तक बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। आदेश का उल्लंघन करने पर नियमानुसार कार्रवाई होगी। 

सूचना मिलने पर पहुंची टीम 
रावतभाटा में कोरोना की दस्तक की सूचना मिलते ही सोमवार सुबह रावतभाटा चिकित्सा विभाग और नगरपालिका की टीम पहले अणु किरण कॉलोनी पहुंची। डॉक्टर अनिल जाटव, डॉक्टर डीजे परमार मेडिकल टीम लेकर पहुंचे और नगर पालिका के दस्ते के साथ सेनेटाइज कराया।  

भीलवाड़ा से आया था एक बेटा, नमकीन वाले के भी लिए गए सैंपल 
बुजुर्ग का एक बेटा भीलवाड़ा से आया था। जो भी जयपुर भर्ती कराने साथ में गया था। उसका भी सैंपल लिया गया। बुजुर्गों के पांच बेटे हैं सभी के सैंपल लिए गए हैं। शहर में नमकीन की दुकान चलाने वाले बुजुर्ग के रिश्तेदार का भी सैंपल लिया गया। नमकीन वाले के संपर्क में कई जने आए हैं।वह भी रिपोर्ट आने के बाद आगे जांच की जाएगी। नमकीन वाला अलसी का तेल भी भेजता था। लोगों ने उसे तेल भी खरीदा था। यह जांच के बाद ही तय होगा कि कोरोना आया कहां से है। 

बचाव की तैयारी शुरू....6 साल के बच्चे से लेकर 75 साल की महिला के लिए सैंपल
कोरोना की रावतभाटा में दस्तक शुरू होते ही बचाव के लिए सैंपल लेना शुरू कर दिए गए हैं। बुजुर्ग के परिजनों सहित कैंटीन कर्मचारी के संपर्क में आए लोगों के सैंपल लिए गए हैं। जिसमें 6 साल के बच्चे से लेकर बुजुर्ग की 75 वर्षीय पत्नी का भी सैंपल लिया गया है।

निंजाटो ने बताया कि इसमें बुजुर्ग के बेटा बेटी पत्नी और रिश्तेदारों के सैंपल लिए गए हैं पांच बिजली घर के कर्मचारियों के भी सैंपल लिए गए हैं। लगभग 4 घंटे की मशक्कत के बाद शाम 7 बजे तक सैंपल लिए गए। सभी सैंपल मंगलवार सुबह भीलवाड़ा विशेष गाड़ी से जाएंगे और मंगलवार शाम तक रिपोर्ट आ जाएगी तब तक सभी 16 जनों को. घर में ही रहने के लिए कहा गया है।

जिम्मेदार बोले- एडवाइजरी की पालना करवाएंगे
^मेडिकल टीम यह पता करने में लगी है कि रावतभाटा में कोरोना कहां से आया है। यहां के बुजुर्ग यह बीमारी किसने दी है। फिलहाल 16 सैंपल लिए गए हैं। आगे रिपोर्ट के बाद और सैंपल भी लिए जाएंगे। रावतभाटा की मेडिकल टीम ने पहली बार सैंपल लिए हैं।
- डॉ. अनिल जाटव, प्रभारी रेफरल अस्पताल, रावतभाटा

^पुलिस और चिकित्सा विभाग को प्रबंधन के निर्देश दिए हैं। बिना मास्क वालों पर जुर्माना और एडवाइजरी की पालना नहीं करने वालों पर सख्ती के निर्देश दिए गए हैं। 
- रामसुख गुर्जर, एसडीएम, रावतभाटा


^रावतभाटा में कोरोना के बाद सभी प्रबंध कड़े कर दिए हैं। सभी को एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं। उच्चाधिकारियों को भी जानकारी दी है। 
- डॉ. डीजे परमार, ब्लॉक सीएमएचओ

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना