हादसs में मौत:बोलेरो की टक्कर से बाइक सवार दो युवकों की मौत, चालक फरार

सुनेलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • झालरापाटन-सुनेल मार्ग की घटना, बाइक की सर्विस कराने आए थे सुनेल

थाना क्षेत्र के सलोतिया गांव में दीपावली से एक दिन पहले बुधवार रात को दर्दनाक हादसे में दो परिवारों के चिराग बुझ गए। झालरापाटन-सुनेल मार्ग पर बुधवार रात को बोेलेरो-बाइक भिड़ंत में बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गई। घटना के बाद बोलेरो चालक वाहन को मौके पर छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर वाहन को जब्त कर लिया है। पुलिस के अनुसार सलोतिया निवासी अंकित दांगी 22 पुत्र जगदीश चंद दांगी और विशाल 20 पुत्र पीरूलाल दांगी दोनों बाइक की सर्विस करवाने सुनेल आए थे, यहां से बाइक मरम्मत करवाकर रात को अपने गांव सलोतिया लौट रहे थे।

तभी रास्ते में रीछड नदी के पास झालरापाटन मार्ग पर सामने से आ रही एक तेज रफ्तार बोलेरो जीप ने उनके टक्कर मार दी। भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कि दोनों गंभीर रूप से घायल होकर अचेत हो गए थे। तभी झालरापाटन से सुनेल आ रही एंबुलेंस ने दोनों घायलों को सड़क पर पड़े देख गाड़ी को रोकी और एंबुलेंस से उनको सुनेल सीएचसी लेकर आए। यहां विशाल दांगी को डॉक्टर ने देखते ही मृत घोषित कर दिया। उधर अंकित की हालत गंभीर होने से प्राथमिक उपचार के बाद तुंरत झालावाड़ रैफर कर दिया। परिजन उसे झालावाड़ जिला एसआरजी अस्पताल लेकर जा रहे थे कि उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। घटना के बाद बोलेरो चालक मौके से फरार हो गया है।त्योहार के दौरान हादसे से गांव में पसरा मातम मृतक विशाल व अंकित दांगी दोनों बचपन के गहरे दोस्त थे।

दोनों आजीविका कमाने के लिए अहमदाबाद कार्य करते थे। वे आजीविका कमाने के लिए अहमदाबाद किसी प्राइवेट फैक्ट्री में कार्य करते थे, जो दिवाली की छुट्टियां मनाने के लिए अपने गांव आए हुए थे।अपनी मां का अकेला सहारा था विशालबचपन में ही विशाल के पिता का निधन हो गया था। विशाल के पालन पोषण का सारा जिम्मा उसकी गरीब मजदूर मां पर ही था। जब विशाल बड़ा हुआ तो मां के गुजर-बसर के लिए आजीविका कमा कर घर खर्च मां को भेजता था। मां भूमिहीन होने के साथ-साथ मजदूरी भी करती थी। मां को नहीं पता था कि इस दिवाली पर घर का कुल का दीपक बुझ जाएगा।

खबरें और भी हैं...