जांबाज भांभू का जन्म दिवस:भारत-पाक युद्ध के विजेता जांबाज भांभू का जन्म दिवस मनाया गया

खींवसर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

खींवसर में खुशी की लहर दौड़ गई जब युद्ध विजेता जांबाज रामू राम भांभू पहुंचे थे। भांभू मूल निवासी ईशरू जोधपुर के हैं। आर्मी रिटायर्ड नायक रामू राम का 80वां जन्म दिवस केक काटकर निंबाराम पंवार के निवास स्थान पर धूमधाम से मनाया गया। वहां मौजूद निंबाराम, हिम्मताराम बलारा, अरविंद, फौजी श्रवण व अन्य उपस्थित थे। रामू राम ने बताया कि 1965 में भारत की सेना लाहौर तक पहुंची और 1971 में लोंगेवाला व मुनावाब में दुश्मन सेना को धूल चटाई थी। भांभू के दोनों पुत्र हरेन्द्र व श्रवण सेना की सेवा भी पूरी कर चुके हैं।

प्रदेश मंत्री बनने पर सूफी के दरबार में अल्पसंख्यक मोर्चा ने चादर पेश की भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यकर्ताओं की तरफ से शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद सूफी हमीदुद्दीन की दरगाह पर चादर पेश की गई।

समाज सेवी सईद राठौड़ ने बताया कि कुम्हारी के कासम अली राठौड़ को मोर्चा के प्रदेष मंत्री बनाने पर सूफी की मजार पर चादर चढ़ाकर अकीदत के फूल पेश किए और मुल्क में अमन-चैन और कोरोना के खात्मे की दुआएं मांगी। इस मौके पर कुम्हारी सरपंच रूपाराम मेघवाल, हाजी मोहम्मद जिन्ना, हाजी वाजिद अली, अब्दुल रऊफ, मोहम्मद इमरान, अल्लाबक्ष, कलीम, शाहिद सिलावट, पूर्व जिला मंत्री जावेद, वार्ड पंच मोहम्मद अली, शाकिल अंसारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...