लोगों ने नशा नहीं करने का लिया संकल्प:जरूरतमंद नागरिकों के कोरोना जांच, ईसीजी व अन्य जांचे की गई

खींवसरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

उपखड क्षेत्र के पांचला सिद्धा ग्राम पंचायत की माधाणियों की ढाणी के बेनीवाल परिवार ने युवाओं में फेल रही नशे की लत को देखते हुए शादी समारोह में नशा नहीं करने का संकल्प लिया। सोमवार को बुधाराम बेनीवाल के पुत्र अरविंद बेनीवाल की शादी का कार्यक्रम था, जिसमें गांवों में वर्षों से चली रही नशे की मान-मनुहार की रस्म को बंद कर दिया।

इस दौरान शादी में जगह-जगह पोस्टर लगवाए, जिसमें नशे की लत से होने वाले दुष्परिणामों के बारे में बताया। लोगों से अपील की गई की आप वर वधु को आशीर्वाद के रूप में ये वचन देवे की वे नशे के खिलाफ लोगों को जागरूक करेंगें और न खुद नशा करेंगें और न ही किसी और को नशा करने देगें। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों ने इस पहल को सराहा और नशा नही करने का संकल्प लिया।

शादी में आए पीबीएम अस्पताल बीकानेर के डाॅ. पूनाराम ने इस पहल को सराहा और बताया कि जो युवा इस नशे की गिरफ्त में आ चुके है वे घबराए नहीं इस बारे में अपने परिवार से खुल कर बात करे। कई जगहों पर नशा मुक्ति केंद्र खुले हुए है। जिनमें आप अपना उपचार करवाएं तथा अपनी जिंदगी को बचाए।

नशा करने वालों की जिंदगी तो खराब होती ही है लेकिन इस नशे की लत से उनके परिवार को भी इसका दंश झेलना पड़ता है। इस दौरान ओमप्रकाश, बाबुलाल, गुलाराम, अमराराम, किशनाराम, गणपतराम, दिनेश फागोड़िया, डॉ. केसी चौधरी, पिपलिया सरपंच दशरथ बेनिवाल, नानकराम हुड्डा उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...