पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धर्म:कुचामन- लाडनूं में महाराजा सूरजमल का 257 वां बलिदान दिवस मनाया

कुचामन सिटी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नागरिकों ने महाराजा सूरजमल को पुण्यतिथि पर किया याद

शहर के डीडवाना रोड स्थित श्री डूंगरी बालाजी मंदिर प्रांगण में शुक्रवार को भरतपुर राज्य के महाराजा सूरजमल का 257 वां बलिदान दिवस मनाया गया। इस दौरान उपस्थित वक्ताओं ने बताया कि महाराजा सूरजमल ने भरतपुर राज्य की स्थापना 1733 में की व लोहागढ़ का निर्माण करवाया था, जिसे कोई भी शासक जीत नहीं सका। महाराजा ने अपने जीवन में 80 युद्ध लड़े, जिनमें से सभी में उन्होंने विजय प्राप्त की, जो गर्व की बात है। इस अवसर पर मुकेश घोटिया, त्रिलोक डूडी, मनीष, रवि भार्गव, अक्षित, सुनील माहोलिया, सुरेश रणवां आदि मौजूद रहे।
लाडनूं. यहां जाट पंचायत भवन में जाट समाज के युवाओं ने अजेय योद्धा महाराजा सूरजमल की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम आयोजित करके उन्हें श्रद्धांजलि अप्रित की गई। इस अवसर पर रामेश्वर लाल जाट ने कहा कि महाराजा सूरजमल अजेय योद्धा थे, जो कभी भी मुगल शासकों और अन्य किसी राजा से पराजित नहीं हुए।

महाराजा सूरजमल वचन के पक्के थे, जो कह देते थे, उसे प्राण-प्रण से पूरा करते थे। सभी को उनके जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिये। कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं ने महाराजा सूरजमल के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित किये और उन्हें श्रद्धांजलि अप्रित की। कार्यक्रम के दौरान ग्राम सुनारी में जरूरतमंद परिवार भंवरलाल गोदारा के लिये आर्थिक सहायता इकट्ठी करके उसे सहयोग देने के लिए तय किया गया कि अगले 2 दिन में सहयोग राशि एकत्रित कर जरूरतमंद परिवार को दी जाएगी।

रामेश्वर लाल जाट, गोपालकृष्ण महला, संजीव पूनियां, गिरधारी इनानिया, महावीर बिरड़ा, कैलाश बिरड़ा, अमनजीत पाण्डर, कमल चैधरी, विकास ज्याणी, नरेंद्र चौधरी, दुलाराम पाण्डर, राकेश इनानिया, जय पांडर, गोपालराम भामू, लालाराम इनाणिया आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें