लंपी स्किन डिजीज:गोवंश को बीमारी से बचाने के लिए की अनोखी पहल, बच्चे कर रहे है महामृत्युंजय जाप का पाठ

कुचामन16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश भर में फैली महामारी लंपी स्किन डिजीज गांव और शहरों में सभी जगह गोवंशों में फैली हुई है। सामाजिक संस्थाओं और पशु चिकित्सकों द्वारा इस महामारी को रोकने के लिए गायों में टीकाकरण किए जा रहे हैं, तो कहीं फिटकरी नीम के पानी से गायों को नेहलाया जा रहा है, तो कहीं हल्दी के लड्डू खिलाए जा रहे हैं।

वहीं नावा क्षेत्र के लिचाना गांव में छोटे-छोटे बच्चों द्वारा गोवंश को बचाने के लिए महादेव की आराधना में महामृत्युंजय का पाठ और अनुष्ठान किया जा रहा है। आचार्य श्री1008 सीताराम दास जी महाराज के आशीर्वाद से चल रहे वेद विद्यालय में वेद विभूषण ,महामृत्युंजय जप श्री गणेश जप साहित्य आदि का ज्ञान बच्चों को दिया जा रहा है।

वेद विद्यालय में अध्यापक राम अवतार व नवीन शास्त्री ने बताया कि महामृत्युंजय मंत्र के प्रभाव से मार्कंडेय ऋषि इस मंत्र के प्रभाव से आज अष्ट चिरंजीवी में से एक है। इस मंत्र के जाप करने से हिंदू शास्त्र के अनुसार हर विविधा और बाधा को टाला जा सकता है। गायों पर फैली इस महामारी को भी टालने का प्रयास किए जा रहे हैं। वेद विद्यालय में यह अनुष्ठान रोज किया जा रहा है, छोटे-छोटे बच्चों से महामृत्युंजय का जाप भी गायों की बीमारी को जल्द स्वस्थ करने के लिए करवाया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...