धरना प्रदर्शन / प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनता को गुमराह करने का काम रही : पलोड़

X

  • भाजपा ने कहा- पेट्रोल व डीजल के बढ़ते भावों में कांग्रेस सरकार जिम्मेदार
  • पड़ोसी राज्यों की तुलना में पेट्रोल व डीजल राजस्थान में 10 से 15 रुपये महंगे

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

मकराना. भारतीय जनता पार्टी के नागौर देहात जिला महामंत्री गिरधर पलोड़ ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर जनता को गुमराह करने के आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रव्यापी धरना प्रदर्शन के तहत सोमवार को राजस्थान में भी जिला मुख्यालय पर धरने का कार्यक्रम रखा, जो कि जनता को सरासर गुमराह करने वाला कार्य है।

पेट्रोल व डीज़ल की कीमतों में बढ़ोतरी के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार है। पूर्ववर्ती भाजपा की वसुंधरा राजे नेतृत्व सरकार ने जनता को राहत देने के लिए मूल्यवृद्धित कर को कम कर दिया था लेकिन कांग्रेस की गहलोत सरकार ने अधिसूचना जारी कर भाजपा सरकार के फैसले को बदल दिया। उन्होंने पेट्रोल व डीजल पर वेट की दरें बढ़ा दी। हाल ही में 2 मार्च 2020 को पुन: इनकी दरें बढ़ा दी। हालात ये है कि पड़ोसी राज्यों की तुलना में पेट्रोल व डीजल राजस्थान में 10 से 15 रुपये महंगे है।

सीमा के पेट्रोल पंपों पर बिक्री कम हो गई इसलिए राजस्व का नुकसान हो रहा है। पलोड़ ने कहा कि राज्य सरकार को पेट्रोल व डीजल पर वेट की दरें कम कर जनता को राहत प्रदान करनी चाहिए ना की धरना प्रदर्शन कर जनता को गुमराह करें। उन्होंने पेट्रोल व डीजल पर वेट की दरों में 8 प्रतिशत की तुरंत कमी करने की मांग करते हुए कहा कि ऐसा नहीं करने पर भाजपा मजबूर होकर जन आंदोलन करेगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना