राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन:कहा- आपस के झगड़े मिल बैठकर सुलझाने का प्रयास करें, राजीनामे से हुआ मामलों का निपटारा

मकराना10 दिन पहले

मकराना के न्यायालय परिसर में शनिवार को द्वितीय राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन हुआ। जिसमें प्रकरणों के निपटारे के लिए तीन बैंच बनाई गई। मुख्य बैंच में ताल्लुका विधिक सेवा समिति अध्यक्ष एडीजे कुमकुम, दूसरी बैंच में एसीजेएम सोनल पारिख व तीसरी बैंच में एमजेएम सोनिया गौरी ने प्रकरण सुने। लोक अदालत में वैसे तो कोई खास प्रकरण सामने नहीं आया, परंतु दोपहर तक आपसी राजीनामा योग्य 40 मामलों का निस्तारण कर दिया गया। इसके लिए वादी प्रतिवादी सहित उनके अधिवक्ता मौजूद रहे।

एडीजे कुमकुम ने कहा कि आपस के झगड़े मिल बैठकर सुलझा लेने चाहिए। पारिवारिक मामलों को जहां तक हो कोर्ट कचहरी तक ना ले जाए। इस दौरान डिस्कॉम, बैंक व राजस्व विभाग से जुड़े बकाया के प्रकरणों का भी राजीनामे से निस्तारण किया गया।

ये रहे मौजूद
इस मौके पर बार संघ के अध्यक्ष एडवोकेट दिलीप सोनी, दिलीप सिंह राठौड़, देवी सिंह, भंवराराम डूडी, शरीफ चौधरी, खलील सिसोदिया, सिकंदर खान, इमरान खान, पैनल अधिवक्ता तलत हुसैन हनीफी, बजरंग व्यास, राजूराम, शुभम माहेश्वरी, विधिक लिपिक जितेन्द्र जावा, देशबंधु मिश्रा सहित अन्य अधिवक्ता व फरियादी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...