मारवाड़ मुंडवा में चोरों का आतंक:एक साथ पांच दुकानों के टूटे ताले, तीन दुकानों में चोरों ने नकदी और सामान पर किया हाथ साफ, CCTV फुटेज खंगाल रही है पुलिस

मारवाड़ मुंडवा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रविवार रात को बस स्टेशन पर स्थित पांच दुकानों के ताले टूटे, जिनमें तीन में चोरी हुई है। बताया जा रहा है कि चोरों ने करीब 50 हजार की नकदी और कई सामान पर हाथ साफ किया है। सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक चोरी की, इस वारदात में तीन युवक शामिल रहे हैं, लेकिन युवकों की पहचान नहीं हो पा रही है।

जानकारी के मुताबिक प्रेम किराना स्टोर से करीब 15 हजार की नकदी और करीब तीस चालीस सिगरेट के पैकेट, जुगल किशोर संपंत सैन की दुकान से करीब 11 हजार हजार रुपए का कैश, सुरेश कुमार मुकेश सैन की दुकान से करीब 20 हजार रुपये नकदी पार करने मे चोरों को सफलता मिली। वहीं राजेश सिखवाल किराना स्टोर आर दामोदर सेन सेल की दुकान के सिर्फ बाहरी ताले ही टूटे, इंटरलोक की वजह से दरवाजे नहीं खुल पाए नहीं तो इन्हें भी बड़ा नुकसान हो सकता था।

रेलवे स्टेशन के पास चाय और दूध की दुकान करने वाले ओम प्रकाश काकड़ा अपने नियत समय सुबह साढे चार बजे के करीब दुकान आ रहे थे। ओम प्रकाश को प्रेम किराणा स्टोर का आधा शट्टर खुला दिखाई दिया तो इन्होंने तुरंत दुकान मालिक को सूचना की, जिस पर दुकान मालिक मौके पर पहुंचे। तब तक सूचना मिलने पर अड़ोस पड़ोस की ओर भी दुकानदार आ गए। अन्य चार और दुकानों के ताले टूटे मिले। चोरी की वारदात की सूचना दुकानदार ने सबसे पहले भास्कर को सूचना दी। भास्कर के इस संवाददाता ने थानेदार को सूचना दी थानाधिकारी रिछपाल सिंह मय पुलिस जाब्ता के तुरंत मौके पर पहुंचे और साक्ष्य जुटाए।

पुलिस ने खंगाले सीसीटीवी

शहर के विभिन्न चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। थानाधिकारी ने इन फुटेज को खंगाला, जिनमे रात के करीब ढाई से चार बजे के बीच की वारदात बताई जा रही है। इन फुटेज मे तीन युवक रेलवे स्टेशन की ओर से आते दिखाई दे रहे हैं। पुलिस इनकी पहचान उजागर करने मे जुटी हुई है।

नशेड़ियों पर शक की सुई
चोरों ने किराने की दुकान से बड़ी मात्रा मे सिगरेट के पैकेट और नकदी चुराई। उससे लगता है यह वारदात नशेड़ियों ने ही की होगी। वहीं पुलिस के लिए इस वारदात का खुलासा करना और क्षेत्र के युवाओं में दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही नशे की प्रवृत्ति पर रोक लगाने के लिए मादक पदार्थों की अवैध तस्करी को रोकना भी एक चुनौती है।

खबरें और भी हैं...