जज्बा / खुद के शरीर पर कोविड-19 वैक्सीन के परीक्षण करे लेकर आगे अाई युवती

X

  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल को भेजा पत्र

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

मेड़ता सिटी. वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे वैज्ञानिकों व चिकित्सकों की हरसंभव मदद के लिए अब ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी आगे आने लगे हैं। मेड़ता सिटी के निकट  गांव की 23 वर्षीय एक युवती ने भी कोविड 19 की दवा बनाने या टीका बनाने की सूरत में इसका परीक्षण अपने शरीर पर कराने की इच्छा जाहिर की है। इसके लिए सुनीता अपना शरीर दान करने को तैयार है।
उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल को पत्र लिखकर अपनी तरफ से मदद की इच्छा जताई है। शुक्रवार को भास्कर से बातचीत में सुनीता भादू ने बताया कि उसे लगा कि कोविड 19 के लिए कोई वैक्सीन बनती है तो वह देश के वैज्ञानिकों व चिकित्सकों को इस दवा के परीक्षण के लिए अपना शरीर देना चाहिए।
इसी इच्छा के तहत उन्होंने पीएम व सांसद को पत्र लिखा है। सुनीता एक किसान परिवार से है तथा उसके पिता अणदाराम भादू खेतीबाड़ी का काम करते हैं। दो भाईयों में सुनीता इकलौती पुत्री है। उसने बताया कि जब यह बात उसने अपने परिजनों को बताई तो परिजनों भी उसे मना नहीं किया बल्कि उसके विचारों पर सहमति जताई। सुनीता 11वीं तक शिक्षित है तथा अपने परिजनों के साथ खेती-बाडी का पूरा काम भी करती है।
उल्लेखनीय है कि लाडनूं क्षेत्र से भी एक दंपती सहित अनेक युवा कोरोना की वैक्सीन के परीक्षण को लेकर शरीर देने के लिए पहल कर चुके हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना