रुके काम होंगे शुरू, रेण रेलवे स्टेशन पर पहुंची टीम:भामाशाहों की ओर से प्रस्तावित प्याऊ, हौज निर्माण और वाटरकूलर और बैंचेंज मंगवाने के काम को दिलाएंगे स्वीकृति

मेड़ता2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रेण रेलवे स्टेशन पर रुके काम फिर से शुरू होंगे। यहां जयपुर से आई एक टीम ने यात्री सुविधाएं देखी। उन्होंने भामाशाहों की ओर से प्रस्तावित कार्यों के बारे में जानकारी ली तो पता चला कि कुछ भामाशाहों को तो लम्बे वक्त से विकास कार्य करवाने की अनुमति नहीं मिल रही है, जिस पर टीम ने उन्हें शीघ्र ही अनुमति दिलवाने की बात कही।

आपको बता दें कि अभी तीन दिन पहले ही राजसमंद सांसद दीया कुमारी ने रेण रेलवे स्टेशन के लिए दो बैटरी कार्ट यानी ई-कार की स्वीकृति जारी की थी। इसी स्वीकृति के बाद उन्होंने अपनी एक टीम रेण रेलवे स्टेशन पर भेजी है। टीम ने रेलवे स्टेशन पर शीघ्र ही और अधिक सुविधाएं मुहैया कराने की बात कही। टीम ने स्थानीय भामाशाहों से भी मुलाकात की। यहां स्थानीय भामाशाह प्लेटफार्म पर प्याऊ, हौज बनवाने को तैयार है।

इसी तरह भामाशाह वाटर कूलर और यात्रियों के बैठने के लिए बैंचेज लगाने को भी तैयार है और उन्होंने रेलवे से स्वीकृति मांगी हुई है। इस टीम ने सभी भामाशाहों को शीघ्र ही विकास कार्यों की स्वीकृति दिलाने की बात कही। टीम में शामिल श्रेयांस शर्मा, हनुमान सिंह ने रेलवे स्टेशन पर पाया कि यहां मूलभूत सुविधाएं नहीं है। स्टेशन पर पानी की व्यवस्था सिर्फ एक वाटर कूलर के भरोसे हैं। अन्य सभी जगह गर्म पानी आ रहा था।

टीनशैड की बढ़ाई लंबाई

आरटीआई कार्यकर्ता डीडी बंग, राजेंद्र सिंह, श्याम लखारा ने आज समस्याएं बताते हुए रेण रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग की। टीम ने भरोसा दिलाया कि वह रेण रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के लिए कार्य करेंगे। टीनशैड और प्लेटफार्म नंबर 2 पर कोच इंडिकेशन डिस्प्ले बोर्ड लगवाने सहित अन्य सुविधाएं मुहैया कराने का पूरा भरोसा दिलाया।

खबरें और भी हैं...