स्वास्थ्य से जुड़ी अच्छी खबर:प्लांट को पाइप लाइन के जरिए अस्पताल से जोड़ा, सीधे 85 प्वाइंटों तक पहुंचेगी ऑक्सीजन, इंजीनियरों ने की टेस्टिंग

मेड़ता4 दिन पहले

मेड़ता शहर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 65 लाख रुपए की लागत से लगाए गए ऑक्सीजन प्लांट से सीधे बेड तक पाइप लाइन के जरिए ऑक्सीजन पहुंचाने का कार्य अब पूरा होने जा रहा है। इसको लेकर अजमेर से आए प्लांट कंपनी के इंजीनियरों ने यहां सेटअप की गई पाइप लाइनों को जांच कर जरूरी कार्य किया।

सीएचसी प्रभारी डॉ. अखिल गुप्ता ने बताया कि ऑक्सीजन प्लांट के संचालन को लेकर अस्पताल में एक अलग से बड़ा जनरेटर लगाया जाएगा। इसके साथ ही संचालन को लेकर आईटीआई किया हुआ एक प्रशिक्षक भी नियुक्त किया जाएगा। ऑक्सीजन प्लांट को लेकर अभी कुछ कागजी कार्रवाई सहित खानापूर्ति बाकी है। जो दो-तीन दिनों में पूरी हो जाएगी। प्लांट से सीधे मरीज के बेड तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए बिछाई गई पाइप लाइनों का अजमेर से आए कंपनी के इंजीनियरों ने टेस्ट किया है।

अस्पताल में लगाया गया ऑक्सीजन प्लांट!
अस्पताल में लगाया गया ऑक्सीजन प्लांट!

इंजीनियर ने पाइप लाइनों की फीटिंग, वॉल्व तथा लीकेज सहित दूसरी जरूरी चीजे जांचकर रिपोर्ट तैयार की। शीघ्र ही यहां कार्मिक की नियुक्ति के साथ 85 प्वाइंट बनाकर बिछाई गई पाइप लाइनों के जरिए प्लांट से ऑक्सीजन सप्लाई की जाएगी। आपको बता दें कि कोरोना के दिनों में सरकार की ओर से कार्यकारी एजेंसी नगरपालिका ने मेड़ता में 65 लाख रुपए की लागत का एक ऑक्सीजन प्लांट बनवाया था, जिसका अब शीघ्र ही नियमित रूप से संचालन शुरू हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...