पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धर्म:कोई भी लौकिक कार्य से पूर्व अलौकिक कार्य करना जरूरी : मां कनकेश्वरी

मेड़ता2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चारभुजा कनक विश्वविद्यालय प्रांगण में श्रीमद् भागवत पारायण पाठ की पूर्णाहुति

राष्ट्रीय संत मां कनकेश्वरी ने कहा कि श्रीमद् भागवत पारायण पाठ के करने से कई आत्माएं पवित्र हो जाती है। मां कनकेश्वरी शनिवार को शहर के चंदिया रोड स्थित चारभुजा कनक विश्वविद्यालय प्रांगण में श्रीमद् भागवत कथा के श्रीमद्भागवत के मूल पारायण पाठ की पूर्णाहुति के अवसर पर प्रवचन कर रही थी।

उन्होंने कहा कि मनुष्य जीवन में कोई भी लौकिक कार्य करने से पूर्व अलौकिक कार्य करना जरूरी होता है। यह शाश्वत भूमि है, यहां वेद मंत्रों से साक्षात सरस्वती विराजित हुई है। भागवत जैसे पाठ का आयोजन करना यह पूर्वजों के पुण्य कर्मों का फल ही होता है। पूर्वजों के पुण्य कर्मों के कारण ही भावी पीढ़ी ऐसे आयोजन करने में सक्षम हो पाती है। उनको यह संस्कार मिला होता है तभी यह इस धरा पर ऐसे कार्य होते हैं। उन्होंने कहा कि भगवत कथा का पाठ करने वाले चले जाएंगे। लेकिन भगवत के शब्द यही गुंजित रहेंगे।

पारायण पाठ करने से दसों दिशाएं पवित्र हो जाती है। जो भी आत्माएं होती है वह भी पवित्र होकर अपने अपने निर्धारित स्थान पर स्थापित हो जाती है। उन्होंने कहा कि जब हम यज्ञ करते हैं तो यज्ञ में जाने और अनजानों लिए भी आहुति देते हैं। राष्ट्रीय संत मां कनकेश्वरी ने कहा कि भागवत कथा के माध्यम से जब 18 हजार श्लोकों का वाचन होता है तो देवता भी प्रसन्न हो जाते हैं और मां सरस्वती भी विद्यादान करने में कोई कसर बाकी नहीं रखती।

मां कनकेश्वरी ने कहा कि दुनिया में ऐसे अनेक लोग हैं जो बड़ी मात्रा में धन कमाकर धन का संचय करते हैं। मगर गरीब परिवार के लोगों को कष्ट के समय भी मदद नहीं पहुंचाते। उन्होंने भागवत कथा के महत्व को बताते हुए कहा कि भागवत कथा सुनते सुनते ब्रह्मा, नारद, सुखदेव, परीक्षित भी भगवान हो गए।

इसलिए भागवत कथा जहां कहीं भी हो जरुरी सुनें। इस अवसर पर मां कनकेश्वरी ने पारायण पाठ की पूर्णाहुति पर आरती उतारी। अग्रवाल ग्रुप निदेशक केसी अग्रवाल व परिवारजनों ने मां कनकेश्वरी का स्वागत किया। इस अवसर पर विद्वान पंडित सहित अनेक श्रद्धालु मौजूद रहे।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय संत मां कनकेश्वरी के गत दिनों मेड़ता आगमन के दौरान चारभुजा कनक विश्वविद्यालय में श्रीमद् भागवत कथा के मूल पारायण पाठ के लिए संस्था निदेशक कैलाश चंद्र अग्रवाल को अवगत कराया। विद्वान पंडितों ने पारायण पाठ प्रारंभ किया। पूर्णाहुति अवसर पर मां कनकेश्वरी दो दिवसीय प्रवास पर मेड़ता पहुंची।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser