चिकित्सा क्षेत्र से जुड़ी अच्छी खबर:मेड़ता रोड PHC को 3 महीने बाद मिला डॉक्टर, CHC के डॉ. आरके तंवर को मिली जिम्मेदारी

मेड़ताएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

क्षेत्र के मेड़ता रोड कस्बे के लिए चिकित्सा क्षेत्र से जुड़ी एक अच्छी खबर है। वहां के सरकारी अस्पताल में पिछले तीन महीने से कोई डॉक्टर नहीं था। अब मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी नागौर ने मेड़ता के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से डॉ. आरके तंवर को मेड़ता रोड के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में लगाया है।

आपको बता दें कि चिकित्सा विभाग की ओर से फिलहाल एक महीने के लिए ही डॉ. तंवर को मेड़ता रोड के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में लगाया गया है। ऐसे में अभी यह एक वैकल्पिक व्यवस्था है। आगामी दिनों में चिकित्सा विभाग की ओर से किसी स्थाई डॉक्टर की भी नियुक्ति की जा सकती है।

आपको बता दें कि करीब तीन महीने पहले मेड़ता रोड के चिकित्सा अधिकारी डॉ. रामप्रकाश गालवा का मोकलपुर अस्पताल में ट्रांसफर हो गया था, तब से मेड़ता रोड पीएचसी में चिकित्सा अधिकारी का पद रिक्त पड़ा था। यहां सिर्फ एक आयुष और एक होम्योपैथिक चिकित्सव डॉ. महेश सियाग और डॉ. सुभाषचंद ही सेवाएं दे रहे थे। मगर एलोपैथिक डॉक्टर का अभाव था।

ऐसे में मेड़ता रोड जैसे बड़े कस्बे और बड़े रेलवे जंक्शन वाले लोगों को प्रोपर चिकित्सा सुविधाएं नहीं मिल पा रही थी। मगर अब यहां के लोगों को कुछ राहत जरूर मिली है। सीएमएचओ डॉ. महेश वर्मा ने बताया कि हमने विभाग को अवगत करा रखा है यहां शीघ्र ही स्थाई रूप से भी डॉक्टर की नियुक्ति करवा दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...