मेड़ता में चातुर्मास प्रारंभ:रामसभा से रामधाम देवल तक पहुंची शोभायात्रा का पुष्प वर्षा से स्वागत, आज से 4 महीने चलेंगे प्रवचन

मेड़ता5 महीने पहले

शहर के रेणी गेट स्थित रामधाम देवल में आज से चातुर्मास प्रारंभ हो गए। चातुर्मास सत्संग सेवा समिति की ओर से दोपहर में रामसभा चारभुजा चौक से गाजो-बाजों के साथ शोभायात्रा रवाना हुई, जो गांधी चौक सहित शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए रामधाम देवल पहुंची। इसके बाद वहां दोपहर 3 से 5 बजे तक प्रवचन हुए।

मेड़ता शहर में चातुर्मास शुभारंभ अवसर पर रामधाम देवल के महंत रामकिशोर महाराज के सान्निध्य एवं उत्तराधिकारी संत रामनिवास शास्त्री, संत रमणराम महाराज की मौजूदगी में गाजो-बाजो के साथ शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा के दौरान यजमान प्रशांत सोनी श्रीमद भागवत गीता को सिर पर धारण किए हुए थे। सैकड़ों महिलाएं सिर पर कलश लिए मंगल गीत गाते हुए चल रही थी। इस दौरान रथ पर सवार महंत रामकिशोर महाराज एवं उत्तराधिकारी संत रामनिवास शास्त्री सहित संतों और शोभायात्रा में शामिल लोगों का शहरवासियों ने जगह-जगह पुष्प वर्षा से स्वागत किया। दोपहर ढाई बजे शोभायात्रा रामधाम देवल पहुंची। इसके बाद यहां भी अनेक धार्मिक कार्यक्रम शुरू हुए।

रोजाना दोपहर 2 से शाम 4 बजे तक होंगे प्रवचन

शोभायात्रा के रामधाम देवल पहुंचने के बाद उत्तराधिकारी संत रामनिवास शास्त्री ने संगीतमय चातुर्मास सत्संग कथा का आगाज किया। इस दौरान संत रमणराम महाराज, संत अर्पितराम, संत भोलाराम, चातुर्मास सत्संग सेवा समिति के अध्यक्ष भंवरलाल बजाज, नंदूश्री मंत्री, लीलाधर सोनी, एडवोकेट जेके वैष्णव, राजीव पुरोहित, रमेश चौहान, अगस्त गुजराती, अमित टाक, डीडी चारण, राजू सोनी, एडवोकेट बाबूलाल गौरा, कैलाश पुजारी, रामेश्वर छाबा, मंगलराम बोराणा, महेश प्रजापति, हुक्मीचंद मानधनिया, डाकपाल सत्यनारायण भाटी, मोतीलाल, किशोर डूडी, भीकाराम प्रजापति, रामदेव बोराणा, जानकीदास वैष्णव, रतनलाल थानवी सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे। समिति के मंत्री ने बताया कि रोजाना दोपहर 2 से शाम 4 बजे तक चातुर्मास सत्संग कथा पर प्रवचन होंगे।

खबरें और भी हैं...