अनोखी पहल:मां की प्रेरणा से परिवार के पच्चीस सदस्यों ने किया रक्तदान, एकता का दिया संदेश

नावां11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नावां उपखण्ड मुख्यालय सहित आस पास के क्षेत्र में डेंगू का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इस बीमारी के चलते लोगों को रक्त की आवश्यकता भी पड़ती है। आमजन के हित में नावां के मोरवाल परिवार की ओर से एक अनोखी पहल की गई। भींवड़ा नाडा बालाजी मंदिर के सामने स्थित हरिओम कॉलोनी में बुधवार की शाम मोरवाल परिवार की ओर से रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया।

जिसमें परिवार के ग्यारह जोड़े सहित कुल पच्चीस लोगों ने रक्तदान किया। परिवार के सदस्य कविता नवरत्न मोरवाल ने बताया कि मोरवाल परिवार की वरीष्ठ सदस्य आचूकी देवी की प्रेरणा से परिवार व कॉलोनी की महिलाओं व पुरुषों ने डेंगू के प्रकोप को देखते हुए रक्तदान करने का संकल्प लिया।

कुचामन के श्याम ब्लड बैंक के विशेषज्ञों की टीम की ओर से रक्त संग्रहित किया गया। परिवार के वरीष्ठ जोड़े संतोष आशुराम मोरवाल ने रक्तदान कर शुभारंभ किया। परिवार के सभी सदस्यों ने शिविर में रक्तदान कर परिवार की एकता व समाजसेवा का संदेश दिया। सरजू नारायण मोरवाल ने जीवन में पहली बार रक्तदान कर खुशी व्यक्त की।

समाजसेवी हेमाराम मोरवाल ने कहा कि माता आचूकी की प्रेरणा से सदैव समाजसेवा के कार्य किए जाते है। जिस पर उनके सहित परिवार के भींवाराम, मोतीराम, भंवरलाल, लक्ष्मणराम, कुनणमल, रतनलाल, नंदाराम, सुरेश, बोदूराम, आशुराम, लादूराम, टीकमचन्द, पवनकुमार, नेमाराम, वासुदेव सहित अन्य लोगों ने रक्तदान शिविर में मौजूद रहे। शिविर की व्यवस्थाएं महाकाल मित्र मंडल के बलराज राजोरा की ओर से की गई।

खबरें और भी हैं...