पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हाथ से फिसली कमाई:फसल बेचने से मिले 2 लाख रुपए, रास्ते में गिरे

नागौर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रेवंत सिंह। - Dainik Bhaskar
रेवंत सिंह।

उधार के रुपए से खेत में रबी की फसल उगाई। चार से पांच माह तक देखभाल की, फिर मजदूरों से कटाई व मशीन से फसल निकलवाई। जुगाड़ के बारदाने व किराए के वाहन बड़ी उम्मीद के साथ मंडी में फसल बेचने के लिए पहुंचा। मंडी में जैसे-तैसे जो भाव मिले उसी में फसल बेची।

हाड़ तोड़ मेहनत की जो कमाई के रुपए मिले उससे ही मन में संतुष्टि करते हुए वो किसान जब ट्रैक्टर पर लेकर घर लौट ही रहा था, उसी दौरान रास्ते में वो पल पाया कि किसान के हाथ से पूरी मेहनत की कमाई फिसल गई। दुखी और हताश किसान रात के अंधरे में पूरा रास्ता छान मारा, मगर उनके हाथ जैसे आए वैसे ही खाली ही रहे गए।

दरअसल, यह किसी फिल्म की कहानी नहीं, बल्कि बैराथल कलां के किसान के साथ घटी रियल घटना है। जानकारी के अनुसार 65 वर्षीय बुजुर्ग किसान रेवंत सिंह भाटी मंगलवार को 30 क्विंटल जीरा-सरसों बेचने के लिए नागौर कृषि मंडी पहुंचे थे।

यहां फसल बेचने के बाद 2 लाख रुपए लेकर जब किसान अपने ट्रैक्टर पर रात के अंधरे में आ रही तेज आंधी और धूल के गुबार के बीच जब घर लौट रहा था तो बासनी और कुम्हार गांव बीच सड़क पर ट्रैक्टर पर रखे 2 लाख रुपए अचानक नीचे गिर गए।

जानकारी के अनुसार किसान का ट्रैक्टर जैसे ही कुम्हारी गांव तक पहुंचा तो किसान को रुपए की थैली नहीं होने की जानकारी मिली, किसान के होश उड़ गए और हाथ पांव फूल गए। इसके बाद उन्होंने रुपए ढूंढने का खूब प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो सके।

किसान को उधारी के चुकाने थे रुपए
किसान रेवंतराम को खेत में बोई फसल के लिए काम में लिए गए खाद-बीज, निराई-गुड़ाई व कटाई करने वाले मजदूरों की मजदूरी, फसल बुआई व थ्रेसर से निकालने वालों को उधार के रुपए भी चुकाने थे। किसान रेवंतराम बताते है कि इस बार मौसम की मार के चलते खेत में रबी की फसल भी कमजोर होने के कारण ज्यादा उत्पादन नहीं हो पाया था। जो फसल हुई उसकी भी मेहनत की कमाई उनके हाथ में नहीं रही।

आंधी के बीच 2 घंटे सड़क को छाना, हाथ लगी हताशा
किसान रेवंत सिंह भाटी को ट्रैक्टर पर रखी 2 लाख रुपए की थैली नहीं होने की जानकारी मिलते ही तेज धूलभरी आंधी के बीच किसान वापस सड़क पर पहुंचा। यहां करीब दो घंटे तक सड़क पर किसान ने कदम-कदम पर छानबीन की, मगर उनके हाथ कुछ भी नहीं लगा। आखिर में हारा दुखी किसान मायूस होकर ही घर लौटना पड़ा। घर पहुंचकर किसान ने यह बात जब घरवालों को बताई तो सभी मायूस हो गए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें