• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • 2 Youths Fed Intoxicants In The Car, Unconscious, After Rape, Ran Away On The Road In Injured Condition; Police Registered A Case After 7 Hours

नाबालिग से गैंगरेप कर सड़क पर फेंका:मां का आरोप- पुलिस ने मामला दबाने की कोशिश की ; भाई को फोन पर धमकी मिली- शिकायत की तो बहन के फोटो वायरल कर देंगे

नागौर2 महीने पहले
डेमो पिक।

नागौर में दो युवकों ने गैंगरेप के बाद नाबालिग दलित लड़की को एक होटल किनारे सड़क पर फेंक दिया। घटना के बाद पीड़िता की मां उसे लेकर थाने पहुंची, लेकिन यहां भी मामला दर्ज करने के बजाय दोनों को घर भेज दिया गया। 7 घंटे बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया।

पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि थाने में शिकायत करने के बाद पुलिस प्राइवेट वाहन में घर पर आ गई और मामले को रफा-दफा करने का प्रयास शुरू कर दिया। इस बात की जानकारी मीठड़ी के पूर्व सरपंच लोकेन्द्र सिंह और समाजसेवियों को लगी तो उन्होंने वहां पहुंचकर पुलिस पर दबाव बनाया।

आखिर बुधवार देर रात एक बजे पुलिस को केस दर्ज करना पड़ा। नाबालिग बुधवार शाम 5 बजे होटल किनारे सड़क पर मिली थी। मामला दर्ज होने के बाद गुरुवार तड़के 3 बजे पीड़िता का मेडिकल कराया गया है। फिलहाल एक भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

कुचामन सर्किल इंस्पेक्टर रामवीर जाखड़ ने बताया कि 17 साल की नाबालिग पीड़िता की मां ने शिकायत की है कि उसकी बेटी सुबह 10 बजे कुचामन गई हुई थी। वहां उसे दो युवकों ने जबरदस्ती अपनी कार में बैठा लिया। इसके बाद उसे कोई नशीली चीज खिलाकर बेहोश कर कार में पीछे वाली सीट पर पटक दिया। दोनों आरोपियों ने उससे सामूहिक दुष्कर्म किया। फिर देर शाम 5 उसे कुचामन स्थित रेनबो होटल के बाहर सड़क पर लहूलुहान हालत में पटक कर भाग गए। पीड़िता लोगों से मदद मांगकर घर पहुंची।

अज्ञात फोन नंबर से पीड़िता के भाई को जान से मारने की धमकी
देर शाम किसी अज्ञात नंबर से पीड़िता के भाई को फोन आया। उसे मामले की रिपोर्ट पुलिस में करने पर जान से मारने की धमकी दी गई। फोन करने वाले ने कहा कि उसकी बहन के कई अश्लील फोटो-वीडियो हैं। शिकायत की गई तो सभी जगह सोशल मीडिया पर पोस्ट कर देगा।

इनपुट : अभिमन्यु जोशी (कुचामन)

खबरें और भी हैं...