• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • 4 Thousand People Marched On Foot And Submitted A Memorandum To The SDM; Demand To Hang The Accused In 7 Days And Help The Victim's Family

मासूम से हैवानियत के खिलाफ फूटा आक्रोश, बंद रहे बाज़ार:4 हजार लोगों ने पैदल मार्च निकाल SDM को सौंपा ज्ञापन; आरोपी को 7 दिन में फांसी और पीड़ित परिवार को सहायता देने की हुई मांग

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मासूम से हैवानियत के खिलाफ फूटा आक्रोश। - Dainik Bhaskar
मासूम से हैवानियत के खिलाफ फूटा आक्रोश।

नागौर के पादूकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार को 7 साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के बाद अब गुरुवार सुबह रियांबड़ी क्षेत्र में करीब 4 हजार लोगों ने एकत्रित होकर जबरदस्त आक्रोश जताया। इस दौरान सभी ने शांतिपूर्ण मार्च निकालते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचकर एसडीएम गौरीशंकर शर्मा को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मासूम से हैवानियत करने वाले आरोपी को सात दिन में फांसी की सजा देने की मांग की और साथ ही पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द समुचित आर्थिक मुआवजा दिए जाने की मांग की गई।

एसडीएम कार्यालय में जमा हुए लोग।
एसडीएम कार्यालय में जमा हुए लोग।

मौखिक आह्वान से बंद हुए बाज़ार, 4 हजार लोग हुए जमा

3 दिन पहले मासूम से हुई हैवानियत के खिलाफ रियांबड़ी उपखण्ड मुख्यालय पर गुरुवार सुबह मौखिक आह्वान से लोगों की भीड़ जमा होनी शुरू हो गई। थोड़ी ही देर में चार हजार लोग जमा हो गए। इसके साथ ही धीरे-धीरे बाजार भी बंद हो गए। घटना को लेकर लोगों की आंखों में आक्रोश साफ़ झलक रहा था। इसके बाद दोपहर में सभी एक साथ राइकाबाग से बस स्टेशन और आजाद चौक होते हुए एसडीएम कोर्ट पहुंचे जहां एसडीएम गौरीशंकर शर्मा को हजारों लोगों की मौजूदगी में सर्वसमाज की तरफ से ज्ञापन सौंपा गया। इस दौरान डेगाना डिप्टी नंदलाल सैनी व पादूकलां एसएचओ अशोक बिसु भी मौजूद रहे।

मासूम से हैवानियत के आरोपी को फांसी की सजा देने की हुई मांग।
मासूम से हैवानियत के आरोपी को फांसी की सजा देने की हुई मांग।

आरोपी को 7 दिन में फांसी और पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता देने की हुई मांग
इस दौरान सर्वसमाज के लोगों ने मासूम से हैवानियत करने वाले हत्यारे आरोपी को सात दिन के अंदर फांसी की सजा देने और पीड़ित परिवार को भी जल्द से जल्द आर्थिक सहायता दिलवाये जाने की मांग की। साथ ही सर्वसमाज के लोगों ने ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए भी प्रशासन से जरुरी कदम उठाये जाने को कहा।

अब तक ये आया सामने

नागौर के पादूकलां थाना क्षेत्र के एक गांव में सोमवार को 7 साल की बच्ची के साथ हैवानियत के बाद हत्या करने के मामले में अब तक सामने आया है कि आरोपी मुंहबोला मामा दिनेश पुत्र रामचंद्र ने घटना से पहले पूरे होशोहवास में मासूम के साथ दुष्कर्म करने का प्लान बना रखा था। इसके लिए उसने मासूम को लुभाने के मकसद से बिस्किट और कुरकुरे भी खरीदे थे।

आरोपी दिनेश ने नशे में होने का नाटक कर कुत्तों से डर की बात कहते हुए मासूम को घर तक छुड़वाने के लिए साथ लिया। नजदीक के खेत में खड़ी बाजरे की फसल में ले जाकर मासूम को बिस्किट और कुरकुरे खिलाए। इसके बाद मासूम के साथ रेप किया। इसके बाद अपनी पोल खुलने के डर से हत्या कर दी। पुलिस को मौके पर बिस्किट और कुरकुरे के खाली पैकेट और देशी शराब के पाउच मिले हैं। इधर, बुधवार दोपहर में पादूकलां पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी दिनेश को मेड़ता शहर स्थित पोक्सो कोर्ट में पेश किया जहां से उसे दो दिन के पीसी रिमांड पर पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं...