कार्रवाई / एक ही दिन में बिजली चोरी के 67 मामले पकड़े, लॉकडाउन के बाद बड़ी कार्रवाई

67 cases of power theft caught in a single day, major action after lockdown
X
67 cases of power theft caught in a single day, major action after lockdown

  • डिस्कॉम के नागौर, मेड़ता, मूंडवा व खींवसर क्षेत्र के गांवों में अलग-अलग टीमों ने की कार्रवाई

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

नागौर. लॉक डाउन लगने के साथ ही गत 21 मार्च से खामोश बैठा डिस्कॉम एक बार फिर एक्शन में आ गया है। नागौर, खींवसर, मेड़ता और मूंडवा के ग्रामीण क्षेत्र में शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया। जिलेभर में की गई कार्रवाई में 12.50 लाख रुपए की बिजली चोरी पकड़ते हुए 67 बिजली चोरी के मामले बनाए गए हैं। 
डिस्कॉम के नागौर ग्रामीण क्षेत्र के भवाद और रायधनु गांव में कार्रवाई की। इस दौरान ट्यूबवेल पर अवैध रूप से बिजली चोरी करते 25 केवीए के दो ट्रांसफार्मर ज़ब्त किए हैं। खींवसर दल ने आचीणा में 40 केवीए हरिराम पुत्र मूलाराम, कांटिया में 40 केवीए सावता राम पुत्र पुरखाराम, मैराथन में 16 केवीए मघाराम पुत्र राजूराम, मुंडवा में 40 केवीए व इंदौर के लिए में 10 केवी का एक ट्रांसफार्मर तथा मेड़ता में बिजली चोरी करते पाए जाने पर एक आरओ प्लांट भी जप्त किया है। पुलिस जाब्ते के साथ की गई डिस्कॉम की इस कार्रवाई से ग्रामीण क्षेत्रों में एक बार फिर हड़कंप मच गया है। संबंधित लोगों के खिलाफ बिजली चोरी निरोधक थाने में धारा 138 के तहत मामला दर्ज किया।
7 अवैध ट्रांसफार्मर, 1 आरओ प्लांट जब्त, 12.50 लाख रुपए का लगाया जुर्माना
जानकारी अनुसार प्रदेश सरकार की ओर से बिजली चोरी के खिलाफ कार्रवाई की हरी झंडी मिलते हीं डिस्कॉम ने एक बार फिर चोरी रोकने की व्यूह रचना तैयार कर ली है। इसी के तहत डिस्कॉम एक्सईएन एसके गुप्ता के नेतृत्व में शुक्रवार को सवेरे ग्राम भवाद और रायधेनु में दो सिंगल फेस ट्रांसफार्मर ज़ब्त किए। इन दोनों से अवैध रूप से बिजली चोरी की जा रही थी। डिस्कॉम की ओर से बताया जा रहा है कि लोग डाउन में ग्रामीण क्षेत्र के के जीएसएस पर बिजली का भार एकाएक बढ़ रहा है। इनमें प्रमुख रूप से चूंटीसरा, गुडला, रामसिया भूंडेल, भवाद हैं जहां सबसे अधिक बिजली की खबर बढ़ी है। इन सभी ग्रामीण क्षेत्रों में ट्यूबवेल पर सिंगल फेस पंपसेट लगे हैं या जो सिंगल फेज ट्रांसफॉर्मर या तीन फेस से चोरी कर रहे हैं इन सब पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। 
सीएम की हरी झंडी मिलते ही फिर से शुरु की कार्रवाई

ग्रामीण क्षेत्र में की गई कार्रवाई के दौरान एईएन ग्रामीण अजय सिंह जेएन सीताराम, अभिनव चौधरी व प्रकाश प्रजापत सहित तकनीकी कर्मचारी मौजूद रहे। वैसे तो डिस्कॉम ने गत 15 व 16 मई को खींवसर और मूंडवा क्षेत्र में कार्रवाई कर शुरुआत कर दी थी। इस दौरान खींवसर में कार्रवाई करते हुए ग्राम भोजास के खेत से 40 केवी के 11 अवैध ट्रांसफार्मर जब्त किए गए। विजिलेंस अभियान में 11 घरेलू चोरी के मामले पकड़े गए। जिसमें करीब 2 लाख का जुर्माना निर्धारित किया गया। मूंडवा में कार्यवाही करते हुए रामलाल जाट के खेत के पास भदाणा में 3 पोल की अवैध लाइन तोड़ बिजली चोरी पकड़ी थी।
अचानक बिजली की खपत बढ़ी तो कार्रवाई 
एक्सईएन एसके गुप्ता ने बताया कि लॉकडाउन का फायदा उठाकर अवैध रुप से बिजली चोरी की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्र में बिजली की खपत में भी अचानक तेजी देखी गई। डिस्कॉम के एमडी ने पिछले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बढ़ती हुई छीजत को देखते हुए प्रभावी सतर्कता जांच करने के निर्देश दिए थे। आगे भी विद्युत चोरी रोकने को निरंतर प्रभावी कार्रवाई की जाएगी। बिजली चोरी करते हुए पकड़े गए सभी दोषियों पर विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 136 तथा  150 के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी।जानकारी मिलते ही कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा। क्योंकि सीएम के भी आदेश है कि फिल्ड में प्रभावी कार्रवाई को अंजाम देकर औचक निरीक्षण किया जाए। बिजली चोरी रोकने के लिए डिस्काॅम कार्रवाई को और तेज करेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना