• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • 8 10 Men And Women Barged Into The House, Tried To Rob Two Years Of Stock; The Other Side Said We Have Bought This Guar, The Rate Changed As Soon As The Price Increased

20 क्विंटल ग्वार लूटने को जानलेवा हमला:8-10 महिला-पुरुषों ने घर में घुस कर की मारपीट, दो साल का स्टॉक लूटने का किया प्रयास; दूसरा पक्ष बोला- हमने खरीद रखा है ये ग्वार, भाव बढ़ते ही बेचने वाले की नियत बदली

नागौरएक वर्ष पहले
ग्वार के लिए झगड़ा करते हुए।

इन दिनों ग्वार के भाव नई ऊंचाई छू रहे हैं। कमजोर मानसून के चलते पैदावार कम होने की आशंका और स्टॉकिस्टों द्वारा भावों में उछाल लाये जाने के बाद हड़बड़ी में किसानों द्वारा धड़ाधड़ खरीद किये जाने के बाद ग्वार के भावों में जबरदस्त तेजी आई है। अब ये तेजी झगड़े का कारण भी बन रही है। शनिवार को लोकल मंडी में ग्वार का भाव छह हजार रुपए प्रति क्विंटल था तथा दो दिन पहले गुरुवार को ग्वार का भाव 9180 रुपए प्रति क्विंटल अधिकतम था।

ग्वाल लूट का ऐसा ही एक मामला डेगाना थाने के मिठड़िया गांव में देखने को मिला है। यहां शुक्रवार को एक मकान के अंडरग्राउंड में रखे दो साल के ग्वार की फसल के स्टॉक के लिए दो पक्ष भिड़ गए। दोनों ही पक्षों में जबरदस्त मारपीट हुई। इस पूरी घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। दोनों ही पक्षों ने शुक्रवार को एक दूसरे पर परस्पर मारपीट के मामले दर्ज कराते हुए ग्वार के स्टॉक पर अपना-अपना दावा ठोका है।

मामला दर्ज कराया

इसको लेकर 8-10 महिला पुरुषों के खिलाफ नामजद मुकदमा भी दर्ज कराया गया है। मकान मालकिन सायरी पत्नी आशाराम जाट निवासी मिठड़िया ने बताया है कि मेरे घर में दो साल की ग्वार की फसल का स्टॉक रखा हुआ है जिसे अब भाव बढ़ने के बाद कुछ लोग जबरदस्ती लूटना चाहते हैं और इसी मकसद से उन्होंने एक दिन पहले मेरे घर पर हमला कर दिया। आरोपियों ने उनके सिर में लोहे के सरिये से मार सिर फोड़ दिया। इस दौरान आरोपियों ने उनके घर के अंदर बने अंडरग्राउंड कमरे का ताला तोड़ने का प्रयास भी किया।

दूसरा पक्ष बोला- हमने खरीदी है ग्वार

वहीं दूसरे पक्ष लाली पत्नी अजित निवासी मिठड़िया का कहना है कि उन्होंने पूर्व में मकान मालकिन सायरी पत्नी आशाराम जाट से 20 बोरी यानी 20 क्विंटल ग्वार खरीद लिया था। इसका भुगतान भी किया जा चुका है, लेकिन तब इस फसल को हम उठा नहीं पाए थे। अब ग्वार के भाव बढ़ गए हैं तो मकान मालकिन सायरी और उसका पति आशाराम जाट हमारी खरीदी हुई ग्वार देने से मुकर गए हैं और अपनी नियत खराब कर ली है। एक दिन पहले हम खरीदी हुई ग्वार लेने गए तो हमारे साथ मारपीट कर हमें भगा दिया गया। फिलहाल पुलिस ने दोनों ही पक्षों की रिपोर्ट पर परस्पर मामले दर्ज कर लिए हैं और जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...