पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऐसी लापरवाही से 'बचना' मुश्किल:वैक्सीनेशन सेंटर पर टीका लगाने वालों की भीड़ उमड़ी, लगी महिला-पुरुषों की लम्बी लाइनें

नागौर5 महीने पहले
लाडनू में एक वैक्सीनेशन सेंटर

ये लम्बी लाइन और महिला पुरुषों की भारी भीड़ किसी धर्मस्थल के बाहर की नहीं है और न ही यह भीड़ किसी मतदान स्थल की है। यह भीड़ जिले के लाडनू कस्बे में एक कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर की बताई जा रही है। दो दिन पहले जिले में डोज ख़त्म होने से वैक्सीनेशन बंद हो गया था। अब डोज सप्लाई आने के बाद आज वैक्सीनेशन दुबारा शुरू हुआ है। ऐसे में टीकाकरण केंद्रों पर लोगों की भारी भीड़ जुटना शुरू हो गई है।

संक्रमण को न्यौता दे रही है ये भीड़
लाडनू शहर में बनाये गए एक कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन लगवाने वालों की जबरदस्त भीड़ जुट गई। मौके पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियम भी तार-तार होते दिखाई दिए। लोगों की ये भीड़ कोरोना संक्रमण को सीधा-सीधा न्यौता दे रही है। वैक्सीनेशन करवाने के दौरान की जा रही ये लापरवाही कितनी भारी पड़ सकती है, इसके बारे में सोचना ही भयावह है।

आज 140 जगहों पर हो रहा है वैक्सीनेशन
जिले में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है और इसके चलते अब जिले में 45+ आयु वर्ग के लोगों के लिए पिछले 2 दिनों से बंद वैक्सीनेशन कार्य को शनिवार को दुबारा से शुरू किया गया है। इसके लिए आज 140 टीकाकरण सत्र आयोजित किये गए है।

इस दौरान करीब 17 हजार 600 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। ये सभी 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के हैं, जिन्हें कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए पहली व दूसरी डोज लगाई जा रही है। नागौर में शुक्रवार को 121 कोरोना पॉजिटिव सामने आए थे व 3 लोगों की कोरोना से मौत हो गई थी।

खबरें और भी हैं...