सतर्कता / 30 साल में पहली बार मेले में नहीं निकली बालाजी की शोभायात्रा, विशेष आरती की

Balaji's procession did not go out for the first time in 30 years, special aarti
X
Balaji's procession did not go out for the first time in 30 years, special aarti

  • लॉकडाउन की पालना में पीपली वाले बालाजी के मंदिर में इस बार नहीं भरा मेला

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

नावां सिटी. शहर के मुख्य बाजार के पास वार्ड संख्या 11 में स्थित पीपली वाले बालाजी महाराज के मंदिर में हर वर्ष 1 जून को ऐतिहासिक मेला महोत्सव आयोजित किया जाता है। मेला महोत्सव पर हर वर्ष 30 मई को भजन संध्या का आयोजन किया जाता है। 31 मई को सुन्दरकाण्ड के पश्चात 1 जून को वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ हवन के पश्चात विशाल शोभायात्रा निकाली जाती थी।
जिसमें बालाजी महाराज की भव्य झांकी सजाने के साथ ही सांभर के कलाकारों की ओर से संजीव व मनमोहक झांकियां भी सजाई जाती है, इसके साथ ही अजमेर के ढोल व किशनगढ़ के बैण्ड से सुसज्जित शोभायात्रा में कलाकारों की ओर से नृत्य भी पेश किए जाते हैं लेकिन इस वर्ष कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार के नियमों की पालना के तहत मंदिर कमेटी की ओर से कोई भी आयोजन नहीं किए जा सके। मंदिर कमेटी के सदस्य अवधेश पारीक ने बताया कि लॉकडाउन में मंदिरों में आरती व धार्मिक आयोजन पर पाबंदी है जिसके चलते आयोजन नहीं हो सके हैं।

मंदिर समिति के पदाधिकारियों की ओर से 30 साल से लगातार मेला महोत्सव आयोजित होता आ रहा है लेकिन इस वर्ष कोई आयोजन नहीं किए गए। सोमवार को पंडित सहित पांच सदस्यों की मौजूदगी में बालाजी महाराज की आरती की गई तथा देशवासियों को इस महामारी से बचाए रखने की मंगलकामनाएं की गई। आरती के दौरान सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए मास्क लगाकर बालाजी महाराज की आरती की गई। इसके साथ ही पूरे मंदिर को सेनेटाइज करवाया गया। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना