नावां में धरने पर सतीश पूनिया:BJP प्रदेश अध्यक्ष बोले- 24 घंटे में अपराधी नहीं पकड़े तो प्रदेशव्यापी आंदोलन होगा

नागौर2 महीने पहले

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया आज नागौर के नावां शहर पहुंचे। उन्होंने नमक कारोबारी जयपाल पूनिया हत्या के विरोध में एसडीएम कार्यालय के बाहर चल रहे धरने में शिरकत की और परिवार का हौसला बढ़ाया। अब तक शव का पोस्टमार्टम नहीं हुआ है। परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़े हैं। धरनास्थल पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि अगर 24 घंटे में अपराधी नहीं पकड़े गए तो नावां से निकलकर यह आंदोलन पूरे प्रदेश में जाएगा।

अभी तक पुलिस किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।
अभी तक पुलिस किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

गृहमंत्री कौन है, वे मौन क्यों हैं
BJP प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधा। कहा- राजस्थान का गृहमंत्री कौन है और वो मौन क्यों है ? वो मौन इसलिए हैं कि वो जयपाल सरीखे कई लोगों की मौत के जिम्मेदार हैं। इस सरकार के छलावे के कारण कई किसानों ने सुसाइड कर लिया। राजस्थान के 9 हजार किसानों की जमीनें लूटी गई। जिंदा कौमे पांच साल का इंतजार नहीं करती। नावां में दिनदहाड़े हुई जयपाल की हत्या सरकार का इकबाल और भरोसा खत्म हुआ है। राजस्थान में 7 लाख मुकदमे दर्ज हुए हैं। केवल जयपाल पूनिया ही नहीं, राजस्थान में रोज इस तरीके की 7 हत्या होती हैं। रोज 18 रेप होते हैं। इस राजस्थान की शान्ति, सद्भाव और सुरक्षा को बिगाड़ने के जिम्मेदार CM अशोक गहलोत हैं। तुष्टिकरण के नाम पर बहुसंख्यकों के हितों पर चोट की जा रही है। करौली से जोधपुर सब सामने है।

धरना स्थल पर बड़ी तादाद में लोग पहुंचे।
धरना स्थल पर बड़ी तादाद में लोग पहुंचे।

आरएलपी का धन्यवाद
RLP के विधायक नारायण बेनीवाल का भी धन्यवाद। ये जनता के हक की लड़ाई है। इसमें दल नहीं देखा जाता है। सामान विचारधारा के लोग जब मिलकर लड़ते हैं तो सत्ता के पाए भी हिलते है। अगले 24 घंटे में अगर अपराधी नहीं पकडे गए तो नावां से आगाज हुआ है और राजस्थान की जनता इस अन्याय का बदला लेगी। पूरे प्रदेश को बारूद के ढेर पे बैठा दिया है। करप्शन का नंगा नाच चल रहा है। प्रदेश के अस्पताल बीमार हैं और स्कूल लाचार हैं। झालावाड़ का कृष्णा वाल्मीकि और अलवर का हरीश जाटव भी न्याय मांगता है। न्याय मांगने वालों की ये फेहरिस्त लम्बी है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सरकार को दिया अल्टीमेटम।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने सरकार को दिया अल्टीमेटम।

विधायक के बेटे पर रेप के आरोप
पूनिया ने महेश जोशी और जौहरीलाल मीणा पर हमला करते हुए कहा- मंत्री पुत्र के रेप से अबला न्याय मांग रही है। जब MLA के बेटे पर रेप के आरोप लगते हैं तो उसी MLA के इशारे पर 300 साल पुराना मंदिर तोड़ दिया जाता है। राजस्थान में आज से पहले इतनी अकर्मण्य, नकारा और भ्रष्ट सरकार मैंने नहीं देखी। बेरोजगारी के चलते राजस्थान के कोने-कोने में युवा अवसाद में हैं। REET में चीट में इनके मंत्रियों और अधिकारियों के कारनामे सबके सामने हैं।

सोनिया-राहुल गांधी पर निशाना
पूनिया ने कहा- कांग्रेस पार्टी के चिंतन शिविर में सोनिया जी, राहुल जी और प्रियंका जी आए। लेकिन आना तो उनका भाई जयपाल पूनिया के परिवार के आंसू पोंछने आना चाहिए था। यहां जिन अबलाओं कि अस्मत लूटी गई उन अबलाओं के आंसू पोंछने आना चाहिए था। लेकिन वो तो चिंतन कर रहे थे और चिंतन से ज्यादा चिंता थी। इनका चिंतन शिविर का एजेंडा था कि राजीव गांधी स्टडी सर्किल को मजबूत करेंगे। रीट का पर्चा लीक कराने में गिरोह के रूप में ये राजीव गांधी स्टडी सर्किल ही लगा हुआ था।

हरीश कुमावत ने BJP नेता और नमक कारोबारी जयपाल पूनिया हत्या के विरोध में 7 सूत्री मांगों को लेकर अनशन शुरू कर दिया है।
हरीश कुमावत ने BJP नेता और नमक कारोबारी जयपाल पूनिया हत्या के विरोध में 7 सूत्री मांगों को लेकर अनशन शुरू कर दिया है।

BJP के वयोवृद्ध नेता हरीश कुमावत ने शुरू किया अनशन
BJP के वयोवृद्ध नेता और वर्तमान में कुचामन नगरपालिका के पार्षद हरीश कुमावत ने BJP नेता और नमक कारोबारी जयपाल पूनिया हत्या के विरोध में 7 सूत्री मांगों को लेकर अनशन शुरू कर दिया है। सोमवार देर रात उन्होंने बतया कि जब तक प्रसाशन उनकी सभी मांगे नहीं मान लेता तब तक वो अनशन पर रहेंगे। आपको बता दे कि 79 साल के हरीश कुमावत 9 बार नागौर बीजेपी के जिलाध्यक्ष, 4 बार MLA, दो बार कुचामन नगरपालिका चेयरमेन और 2 बार शिल्प एवं माटी कला बोर्ड के चेयरमेन भी रह चुके है।

धरने में सांसद हनुमान बेनीवाल भी पहुंचे। जयपाल पूनिया को श्रद्धांजलि दी।
धरने में सांसद हनुमान बेनीवाल भी पहुंचे। जयपाल पूनिया को श्रद्धांजलि दी।

बता दें कि नावां के नमक कारोबारी जयपाल पूनिया की शनिवार दोपहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जयपाल पूनिया की पत्नी ने एफआईआर में नावां विधायक महेंद्र चौधरी, उनके भाई और साले सहित 8 जनों का नाम लिखाया है। MLA महेंद्र चौधरी विधानसभा में सरकारी उप मुख्य सचेतक हैं। ऐसे में इस मामले पर राजनीति गर्म हो गई है।

केंद्रीय मंत्री शेखावत का CM से सवाल:CM जवाब दें- विचारधारा की लड़ाई में सरेआम मर्डर कितना न्यायोचित ?

मर्डर मामले में भड़के सांसद बेनीवाल:बोले- चिंतन शिविर के समय प्लांड तरीके से नावां MLA ने करवाया पूनिया का मर्डर

मर्डर के विरोध में नावां बंद:गिरफ्तारी से पहले परिजनों का पोस्टमार्टम से इंकार, BJP-RLP नेताओं का धरना

बेनीवाल बोले- MLA के इशारे पर हुआ मर्डर:CBI जांच की मांग, बोले- MLA के भाई से पूनिया का चल रहा था झगड़ा