पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Breaking Record In Merta, Less Than 3 Average In 10 Tehsils, Meteorological Department Said If It Rains Now, Western Disturbance Or Other Reason Will Be

अलविदा मानसून:मेड़ता में रिकॉर्ड तोड़ा, 10 तहसीलों में औसत से ज्यादा तो 3 में कम, मौसम विभाग ने कहा- अब बारिश हुई तो पश्चिमी विक्षोभ या दूसरा कारण होगा

नागौर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नागौर सहित पश्चिमी राजस्थान में मानसून ने अलविदा कह दिया है। मौसम विभाग जयपुर के अनुसार मानसून की विदाई हो गई है। बीकानेर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, अमृतसर और बठिंडा के रास्ते मानसून की निकासी हो गई। नागौर में इस बार बारिश औसत से 57 एमएम ज्यादा हुई थी। 369.7 एमएम बारिश होती है, इस बार जिले में मानसून की बारिश 426.5 एमएम हुई है। मानसून इस बार सर्वाधिक मेहरबान मेड़ता तहसील पर रहा, जहां 5 साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सर्वाधिक 755 एमएम बारिश हुई।

हालांकि पिछले वर्ष की तुलना में इस बार मानसून जिले में कमजोर रहा है। गत वर्ष मानसून की 562.3 एमएम बारिश हुई थी, यानी गत वर्ष इस बार 136 एमएम बारिश कम हुई है। नागौर में हर साल मानसून 28 जून को आता है। इस बार समय से चार दिन पहले 24 जून काे ही अजमेर के रास्ते मानसून ने दस्तक दे दी थी। 28 सितंबर को मानसून की विदाई शुरू हो गई थी।

औसत बारिश- 369.7 एमएम हुई इस बार- 426.5 एमएम गत वर्ष से - 136 एमएम कम सर्वाधिक बारिश- 755 एमएम मेड़ता

10 तहसीलों में औसत से ज्यादा तो 3 में कम बारिश

जिले में मानसून की 10 तहसीलों में उससे ज्यादा इस बार बारिश हुई है, हालांकि 3 तहसीलें ऐसी भी है जहां बारिश का आंकड़ा औसत को नहीं छू पाया। जिले के कुचामन-325, लाडनूं-328 और डेगाना में 320 एमएम ही बारिश हुई है। जबकि मेड़ता-755, रियाबड़ी-483, नावां-476 और जायल-471 एमएम सर्वाधिक बारिश दर्ज की गई।

जुलाई अगस्त में ज्यादा बारिश हुई : जून में मानसून एक्टिव हाे गया था। मगर जुलाई में स्ट्रॉन्ग लाे प्रेशर एरिया या फिर मजबूत मौसम का सिस्टम नागौर और उसके आसपास के एरिया में बनने से अच्छी बारिश हुई। इसके बाद बीच में बहुत तेज या लगातार बारिश नहीं हुई। जाे भी बारिश हुई, वह या ताे ऊपरी हवा के चक्रवात के कारण हुई या फिर कन्वर्जन जाेन बनने की वजह से।

जहां तक मानसून सीजन में बारिश की झड़ी का सवाल है ताे इस बार सिस्टम ताे बने। मगर कुचामन, लाडनूं व डेगाना जैसी तहसीलों में लगातार बारिश नहीं हो सकी। माैसम विभाग जयपुर के अनुसार इस सीजन बारिश की झड़ियां नहीं लगीं। इस वजह से सितंबर के इन दिनों में भी गर्मी सता रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें