बुजुर्ग पेड़ पर फांसी के फंदे से लटका मिला:रात में छोटे भाई को फोन कर सुसाइड करने की बात बताई, 4 महीने बाद बड़े बेटे की शादी होनी थी

नागौर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मौके पर खड़े पुलिस जवान व अन्य। - Dainik Bhaskar
मौके पर खड़े पुलिस जवान व अन्य।

जिले के नावां थाना क्षेत्र में गुरुवार को मीठड़ी से उलाणा मार्ग के बीच पेड़ पर फांसी के फंदे से लटकते हुए बुजुर्ग का शव मिलने का मामला सामने आया। थोड़ी देर बाद ही मौके पर भीड़ जमा हो गई। सूचना पर पूर्व सरपंच व पुलिस भी मौके पर पहुंची। मृतक उलाणा का मूल निवासी था और पिछले 15 साल से जयपुर में रहकर ट्रक ड्राइवरी का काम कर रहा था।

बुधवार देर रात मृतक ने उलाणा में रह रहे अपने छोटे भाई को फोन कर आत्महत्या करने की बात कहकर फोन काट दिया था। तब से ही छोटा भाई उसे तलाश कर रहा था। उलाणा निवासी जगदीश सिंह ने बताया कि पिछले 15 साल से उसका बड़ा भाई शिंभू सिंह पुत्र गुलाब सिंह (52) जयपुर में रहकर ट्रक ड्राइवरी का काम करता था।

बुधवार देर रात शिंभु सिंह ने उसे फोन कर कहा कि वो आया हुआ है और आत्महत्या कर रहा है और उसके जेब में नौ हजार रुपये पड़े हैं। इसके बाद उसका फोन स्विच ऑफ़ हो गया। ऐसा सुनते ही उसने शिंभु सिंह की तलाश की मगर उसे वो कहीं नहीं मिला। अगले दिन दोपहर बाद सूचना मिली की मीठड़ी से उलाणा मार्ग के बीच एक पेड़ पर उनका शव लटक रहा है।

नावां पुलिस ने बताया कि मीठड़ी से उलाणा मार्ग के बीच एक पेड़ पर फांसी के फंदे से बुजुर्ग का शव लटकते हुए मिलने कि सूचना पर मौके पर पहुंचे। मीठड़ी पूर्व सरपंच लोकेन्द्र सिंह व अन्य ग्रामीणों की सहायता से शव को उतरवाकर नावां CHC की मोर्चरी में भिजवाया गया जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सुपुर्द कर दिया है। वहीं मृतक शिम्भू सिंह के दो बेटे है और एक बड़े बेटे की आगामी फरवरी माह में शादी होनी तय है।

इनपुट : श्याम सुन्दर प्रजापत (मीठड़ी)

खबरें और भी हैं...