पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान:बेटी के जन्म पर हॉस्पिटल संचालक की ओर से वितरित किए गए सिक्के, कलेक्टर डॉ. सोनी भी कर रहे हैं प्रेरित

नागौर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नवजात कन्या के साथ मां। - Dainik Bhaskar
नवजात कन्या के साथ मां।

कलेक्टर डॉ जितेंद्र कुमार सोनी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का एक अभियान शुरू कर जिले वासियों को प्रेरणा दी थी। इस अभियान के माध्यम से जिलेवासी अपनी बेटियों को पढ़ाएं। कलेक्टर सोनी ने रास्ता खोलो अभियान के तहत किसानों को प्रेरित करते हुए कहा कि आज के युग में बेटियों को कमजोर नहीं समझें तथा बेटा-बेटियों में कोई भी मतभेद नहीं रखें। बेटियां ही आगे बढ़कर दो परिवारों का नाम रोशन करती है। इसीलिए बेटियों को अच्छी शिक्षा दिलाएं।

कलेक्टर की प्रेरणा से खींवसर उपखंड मुख्यालय पर श्री बालाजी हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर हनुमान चौधरी ने हॉस्पिटल में बच्चियों के जन्म होने पर माता-पिता का हौसला बढ़ाया तथा हॉस्पिटल की ओर से बच्ची के जन्म पर एक चांदी का सिक्का उपहार के रूप में भेंट किया। दंत रोग डॉक्टर हनुमान चौधरी ने बताया कि श्रीबालाजी हॉस्पिटल में दो जुड़वा बच्चों के सफलतापूर्वक सामान्य डिलीवरी करवाई है। बिरलोका निवासी खेमी देवी पत्नी भगाराम के अचानक पेट में दर्द होने पर भर्ती कराया गया।

डॉ. कुलदीप शर्मा स्त्री रोग विशेषज्ञ ने सोनोग्राफी करवाई। रिपोर्ट देखने पर जानकारी मिली कि 8 महीने होने पर महिला के दर्द था। जिस पर डॉक्टर ने जांच करते हुए देखा कि महिला के पेट में 2 बच्चे हैं। तथा महिला के शरीर में खून की कमी 6 ग्राम पाई गई। डॉक्टर शर्मा ने बताया कि महिला का ग्रुप बी नेगेटिव था जो कि मिलना दुर्लभ था।

इसके बावजूद डॉ कुलदीप शर्मा व डॉ नावेद द्वारा उनकी टीम ने सफलतापूर्वक सामान्य प्रसव करवाया। प्रसव के दौरान महिला को दो यूनिट खून चढ़ाया गया। इस तरह हॉस्पिटल की ओर से बच्ची के जन्म पर चांदी के सिक्के भेंट किए गए। हॉस्पिटल संचालक सराहनीय कार्य से ग्रामीणों ने आभार प्रकट किया।

खबरें और भी हैं...