• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Even After The Dissolution Of The District Congress Committees, He Remained Active In The Organization, Did Not Even Indulge In Factionalism.

गैसावत पर भरोसा बरकरार, दोबारा बने DCC प्रसिडेंट:जिला कांग्रेस कमेटियों के भंग होने के बाद भी लगातार एक्टिव रहे, गुटबाजी में भी नहीं पड़े

नागौर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जाकिर हुसैन गैसावत। - Dainik Bhaskar
जाकिर हुसैन गैसावत।

प्रदेश में मंत्रिमण्डल विस्तार के बाद अब बुधवार देर शाम कांग्रेस पार्टी ने 13 जिलाध्यक्ष व दो प्रदेश प्रवक्ताओं की घोषणा भी कर दी है। AICC के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने देर शाम इनके नामों की घोषणा की है। AICC कार्यालय से जारी हुई इस ताजा सूची में मकराना के पूर्व विधायक और हाल में कार्यकारी जिलाध्यक्ष जाकिर हुसैन गैसावत को लगातार दोबारा जिला कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया है।

गौरतलब है कि सचिन पायलट के PCC चीफ रहने के दौरान जाकिर हुसैन गैसावत DCC जिलाध्यक्ष थे। इसके बाद पायलट को हटाकर गोविन्द सिंह डोटासरा को PCC चीफ बनाया गया और प्रदेश की सभी जिला कांग्रेस कमेटियों को भांग कर दिया गया था। बावजूद इसके गैसावत डोटासरा के कार्यकाल में भी नागौर में जिलाध्यक्ष का कार्यभार संभालते रहे। पार्टी संगठन के सभी कार्यक्रमों को में लगातार एक्टिव रहे। पायलट-गहलोत विवाद में भी नहीं पड़े और गुटबाजी से भी दूर रहे। नतीजतन जिले के सभी 6 विधायकों ने गैसावत को जिलाध्यक्ष बनाने पर सहमति दे दी।

गैसावत 2008 के चुनावों में जीतकर मकराना से विधायक रह चुके है। 2013 और 2018 के चुनावों में मामूली वोटों से ही हार गए थे। जिले में गैसावत कांग्रेस के कद्दावर अल्पसंख्यक नेता है। उनके दोबारा जिलाध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में खुशी का माहौल है। मकराना में कांग्रेस वर्कर्स ने खुशी में पटाखे छोड़े तथा मिठाइयां बांटी।

13 जिलों में कांग्रेस जिलाध्यक्षों की घोषणा:जोधपुर देहात, बीकानेर,बाड़मेर, नागौर और दौसा में पुराने जिलाध्यक्ष रिपीट, सीताराम अग्रवाल कांग्रेस के कोषाध्यक्ष, दो प्रवक्ता बनाए