लेन-देन के दो-दो वीडियो वायरल:मेड़ता अस्पताल के दो-दो वीडियो वायरल होने के बाद भी जांच नहीं, लोग उठाने लगे हैं सवाल

नागौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के मेड़ता के सरकारी अस्पताल में लेन-देन को को लेकर डॉ. व स्टाफ के वीडियो वायरल हुए थे। लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को जांच करने तक का समय नहीं है। जांच अधिकारी डॉ. मुश्ताक अहमद का कहना है कि अब शुरू करेंगे जांच, समय नहीं मिलने से जांच नहीं कर सके।

वहीं मामले में डॉ. अहमद ने कहा कि एक सप्ताह पूर्व डॉ. कमलेश गोरा का लेन-देन की बात करते व जीएनएम सुनीता का रुपए लेने का वीडियो वायरल हुआ था। उस मामले की जांच की जा रही है।

डॉक्टर जयपुर गए हुए थे। इससे जांच नहीं हो पाई, अब गत सोमवार को मेड़ता की विजिट करने का कहा, लेकिन वो भी नहीं कर सके। जब दोनों ही मामलों को लेकर बुधवार को बात की गई तो डॉ. मुश्ताक अहमद का कहना था कि अभी तो जयपुर हूं, अब जल्द ही मेड़ता विजिट कर जांच शुरू करेंगे। जबकि मामले में कलेक्टर ने भी जांच करने के आदेश जारी किए है, बावजूद इसके जांच अधिकारी जांच पूरी नहीं कर रहे है।

मेड़ता अस्पताल के कर्मी पैसे लेते वीडियों में साफ नजर आ रहे हैं, कार्रवाई नहीं

मामला 1.मेड़ता के सरकारी अस्पताल में प्रसव करवाने को लेकर रिश्वत लेते हुए और रिश्वत की बात करते हुए दो वीडियो वायरल हुए है, जिसमें पहले वीडियो में महिला के परिजनों से रिश्वत के रुपए लेते हुए एक जीएनएम भी दिखाई दे रही है,

जबकि एक वीडियो में मेड़ता राजकीय चिकित्सालय में कार्यरत स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. कमलेश गोरा प्रसव करवाने आई महिला के परिजनों से रुपए लेन-देन की बात करते दिख रहे है। अब दोनों ही वीडियो वायरल है।

इसमें मेड़ता राजकीय चिकित्सालय में कार्यरत एक जीएनएम सुनीता प्रसव करवाने आई एक महिला के परिजनों से रुपए लेते दिख रही है। गौरतलब है कि प्रसूति एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. कमलेश गोरा का स्थानांतरण 24 जून को फलौदी हो गया था। लेकिन रिलीव नहीं किया गया था। अब मामला सामने आते ही कमेटी बनाई गई, लेकिन जांच अटकी पड़ी है।

मामला 2

अस्पताल में डिलीवरी से लेकर जन्म प्रमाण-पत्र के बदले ली जाने वाली बधाई के दाम तय हैं। 7 दिन पहले यहां स्त्री रोग विशेषज्ञ का लेन-देन की बात करते और उसके बाद एक जीएनएम का पैसे लेने संबंधी वीडियो वायरल हुआ था। दूसरे वीडियो में दो नर्सिंग ऑफिसर्स (मेल नर्स) के पैसे लेते वीडियो मिले हैं। यह भी तब जब पिछले प्रकरण की जांच अभी चल रही है।

बावजूद इसके दूसरा वीडियो भी आ गया। जिसमें एक नर्सिंग ऑफिसर बारगेनिंग करके पैसे लेते दिख रहा है। यहां के कुछ स्टाफ के कारनामों के कुछ वीडियो मिले हैं। हालांकि भास्कर वीडियो की पुष्टि नहीं करता लेकिन इसमें जो लोग पैसे लेते दिख रहे हं वो मेड़ता अस्पताल के ही कर्मी हैं। जिनमें नर्सिंग ऑफिसर ओमप्रकाश पोटलिया व राजपाल मरीजों के परिजनों से पैसे लेते दिख रहे हैं।

पैसे लेने और मांगने के वीडियों हुए थे वायरल
मेड़ता सिटी सीएचसी में डिलीवरी से लेकर जन्म प्रमाण-पत्र के बदले ली जाने वाली बधाई के दाम तय हैं। 7 दिन पहले यहां स्त्री रोग विशेषज्ञ का लेन-देन की बात करते और एक जीएनएम का पैसे लेने संबंधी वीडियो वायरल होने के बाद अब दो नर्सिंग ऑफिसर्स (मेल नर्स) के पैसे लेते वीडियो मिले हैं।

भास्कर की पड़ताल में भी यही बात आई थी सामने

दैनिक भास्कर ने इस मामले को प्राथमिकता से प्रकाशित करते हुए उच्च अधिकारियों का ध्यान आकर्षित किया था। वीडियो वायरल होने की जानकारी उच्च अधिकारियों के पास भी पहुंची है। अब अधिकारी बोले-जल्द जांच की जाएगी।

अधिकारी बोले :

जांच अब करेंगे, विजिट की थी, लेकिन डॉ. नहीं होने से जांच नहीं की जा सकी। अब जल्द करेंगे।
-डॉ. मुश्ताक अहमद, (आरसीएचओ)

अब तक जांच में दोनों को लेबर रूम में काम नहीं करने दिया जा रहा है, बाकी जांच आरसीएचओ के पास है वे ही करेंगे।
-डॉ. सुशील दिवाकर, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मेड़ता।

खबरें और भी हैं...