पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Farmers Staged A Day long Protest On The Demand To Remove The Case Registered In The Toll Case, There Was No Agreement In Talks With The Police administration

किसानों ने कुचामन पुलिस थाने को घेरा:टोल मामले में दर्ज मुकदमे को हटाने की मांग पर किसानों ने दिन भर दिया धरना, पुलिस-प्रशासन के 15 दिन में कार्रवाई के आश्वासन के बाद धरना खत्म किया

नागौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कुचामन में किसानों और पुलिस के बीच बना हुआ है गतिरोध। - Dainik Bhaskar
कुचामन में किसानों और पुलिस के बीच बना हुआ है गतिरोध।

संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले शुक्रवार को कुचामन में जिलिया टोल पर किसानों पर किए गए झूठे मुकदमे के खिलाफ हजारों किसान लाबन्द हो गए और दिन भर धरना-प्रदर्शन किया। अब शाम होते-होते किसानों ने अपनी मुख्य मांग किसानों पर किए गए झूठे मुकदमे वापस लेने को लेकर कुचामन थाने का घेराव कर दिया।

मौके पर डीडवाना डीएसपी व पुलिस व प्रसाशन के आला अधिकारी सहित भारी पुलिस जाब्ता तैनात किया गया। इससे किसानों और पुलिस के बीच गतिरोध की स्थिति बन गई। बाद में पुलिस प्रशासन के 15 दिन में कार्रवाई के आश्वासन के बाद किसानों ने धरना खत्म कर थाने का घेराव हटा दिया।

कुचामन पुलिस थाने के बाहर भारी पुलिस जाब्ता किया गया तैनात।
कुचामन पुलिस थाने के बाहर भारी पुलिस जाब्ता किया गया तैनात।

इससे पहले अपने पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार कुचामन स्थित किसान कृषि उपज मंडी में किसान नेता कॉमरेड अमराराम व पेमाराम सहित कई किसान नेताओं की अगुवाई में किसानों ने धरना दिया और किसान सभा आयोजित कर पुलिस प्रशासन को चेताते हुए जिलिया टोल मामले में किसानों पर दर्ज डकैती व मारपीट के मामले को झूठा बताते हुए वापस लेने की बात कही।

वार्ता के हुए प्रयास, पर रहे बेनतीजा
किसानों द्वारा किये गए धरना-प्रदर्शन के बाद प्रशासन ने किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए एसडीएम कार्यालय बुलाया गया और वार्ता कर समझाइश के प्रयास किये गए, लेकिन वार्ता बेनतीजा रही।

शाम होते होते थाने को घेरा
दिनभर चले धरने के बाद भी जब पुलिस द्वारा किसानों पर लगाये गए मुकदमे हटाने की कोई घोषणा नहीं की गई और प्रशासन के साथ चली वार्ता भी बेनतीजा हो गई तो आखिरकार किसानों ने कृषि उपज मंडी से रवाना होकर कुचामन पुलिस थाने को घेर लिया है। अब मौके पर भारी पुलिस जाब्ता और सैंकड़ों किसान आमने-सामने हो गए। आखिरकार एडीएम ने मौके पर पहुंचकर किसानों को 15 दिन में मामले की निष्पक्ष तफ्तीश कर कार्रवाई के आश्वासन के बाद किसानों ने धरना खत्म कर थाने का घेराव हटा दिया।

इनपुट : अभिमन्यु जोशी (कुचामन)

खबरें और भी हैं...