पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सेवा कार्य:वसुंधरा जन रसोई के तहत नागौर में लगातार दूसरे दिन भी वितरित किए गए भोजन के पैकेट

नागौर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नागौर. वसुंधरा रसोई योजना के तहत कच्ची बस्तियों में भोजन वितरण करते बीजेपी के कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
नागौर. वसुंधरा रसोई योजना के तहत कच्ची बस्तियों में भोजन वितरण करते बीजेपी के कार्यकर्ता।
  • कोरोना आपदा में जरूरतमंदों को भोजन की कमी नहीं आए इसके लिए की जा रही मदद

कोरोना आपदा में जरूरतमंदों को भोजन की कमी नहीं आए इसके लिए पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की भावना से प्रेरित होकर प्रदेश में शुरू की गई “वसुंधरा जन रसोई” सेवा कार्य के तहत शनिवार को दूसरे दिन नागौर शहर की विभिन्न बस्तियों व इलाकों में जरूरतमंदों को तैयार शुद्ध खाने के पैकेट का वितरण किया।

सेवा कार्य के तहत शहर में शनिवार को लक्ष्मी तारा सिनेमा के सामने मूंडवा रोड पर भाजपा पूर्व जिलाध्यक्ष रामचंद्र उत्ता, भाजपा की पूर्व प्रदेश मंत्री सरोज प्रजापत व पूर्व जिला उपाध्यक्ष महेंद्र पहाड़िया के निर्देशन में टीमों ने सेवा कार्य किया। इसी प्रकार स्टेडियम के सामने स्थित कच्ची बस्ती में घूमंतू परिवारों को खाने के पैकेट बांटे गए।

सेवा कार्य में जुटी टीम में शामिल श्रवण खटीक, विमल कंसारा, अशोक बड़जात्या, ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष मगनीराम कुनजी सांखला, भाजपा पदाधिकारी चंचल जोधा, अविनाश बिंजावत, अल्पसंख्यक मोर्चा जिलाध्यक्ष जाकिर भट्टी, मास्टर इमरान, सुरज मेघवाल डीडवाना, नईम अहमद आदि ने जोधपुर रोड पर पशु मेला मैदान में घुमंतू परिवारों को खाने के पैकेट वितरित किए।

इसी प्रकार जोधपुर बीकानेर बाइपास पर सांसी बस्ती में भी खाने के पैकेट वितरित किए। इस अवसर पर उत्ता ने इस मौके पर कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे हमेशा से गरीबों, किसानों व जरूरतमंदों की चिंता करती हैं। पूर्व प्रदेश मंत्री सरोज प्रजापत ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गरीब, किसान व मजदूर के प्रति जो सकारात्मक सोच है।

पूर्व जिला उपाध्यक्ष महेंद्र पहाड़िया ने कहा कि नागौर में जिस प्रकार से वसुंधरा जन रसोई की शुरूआत की गई है, उसी तरह भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी जन सेवा में जुट गए हैं। कुचेेरा| बुटाटी पंचायत के वार्ड पंच मनोहर पंडित ने किसानों को मास्क वितरित किए। इस दौरान उन्होंने खेतों में जाकर वितरण किया।

खबरें और भी हैं...