पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • From The Beginning There Was A Dream Of Becoming RAS, Monika's Husband Also Naib Tehsildar: One Of The Total 4 Sisters Is Already A Judicial Magistrate In Pali And The Wife Of A Didwana MLA

दो बहनों शिप्रा और मोनिका का RAS में सलेक्शन:कमांडेंट पिता का बेटियों को अधिकारी बनाने का सपना हुआ पूरा, शिप्रा की 162वीं और मोनिका की 213वीं रैंक

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
RAS में चयनित दोनों बहनें। - Dainik Bhaskar
RAS में चयनित दोनों बहनें।

नागौर जिले में मेड़ता क्षेत्र के जारोड़ा गांव की दो बहनो शिप्रा चौधरी और मोनिका चौधरी ने RAS 2018 में 162वीं और 213वीं रैंक प्राप्त की है। 33 साल की शिप्रा चौधरी ने पोस्ट ग्रेजुएशन के साथ NET भी क्वालीफाई किया हुआ है तो 29 साल की मोनिका चौधरी ने ग्रेजुएशन कर रखा है। मोनिका चौधरी ने दैनिक भास्कर को बताया कि दोनों ही बहनों का RAS बनने का सपना था और अपने पहले ही प्रयास में उन्हें सफलता मिल गई है।

मोनिका और शिप्रा कुल चार बहने है। इनकी सबसे बड़ी बहन डीडवाना विधायक चेतन डूडी कि पत्नी सुमन चौधरी है तो एक बहन स्वाति चौधरी अभी पाली जिले के मारवाड़ जंक्शन में न्यायिक मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात है। पिता मोहनप्रकाश जाजड़ा सीआरपीएफ में कमांडेंट है और वर्तमान में मेघालय के शिलाँग में तैनात है। शिप्रा अभी अविवाहित है और मोनिका ने नागौर के मौलासर में नायब तहसीलदार के पद पर पदस्थापित RTS कमलदीप पुनिया के साथ कोर्ट मरीज की है। दोनों ही बहने अपनी इस सफलता के लिए पिता मोहन प्रकाश व माता कमला देवी की परवरिश को श्रेय दे रही है। उनका कहना है कि पापा का सपना था कि हम चारों बहन उच्च अधिकारी बने और देश की सेवा करें। अब उनका सपना पूरा करने पर बेहद ख़ुशी हो रही है।

खबरें और भी हैं...