सशस्त्र सेना झंडा दिवस:शहीद की मां को सहयोग राशि का चेक दिया

नागौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर मंगलवार को सैनिक कल्याण बोर्ड की ओर से शहीदों को नमन करते हुए उनकी माताओं व वीरांगनाओं को सम्मानित किया गया। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल मुकेश शर्मा ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस के कार्यक्रमों की शुरूआत कलेक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी व एडीएम मोहनलाल खटनावलिया को फ्लेग स्टीकर लगाकर की। कर्नल शर्मा ने बताया कि सशस्त्र सेना झण्डा दिवस हर वर्ष मनाया जाता है। इसका उद्देश्य बहादुर और शहीद, गौरव सेनानियों को सम्मान देना, बजुर्ग गौरव सेनानियों तथा शूरवीरों को सैल्यूट एवं सेवारत सैनिकों के साथ समस्त राष्ट्र की एकजुटता दर्शाना है। इस अवसर पर केन्द्रीय सैनिक बोर्ड नई दिल्ली एवं निदेशक सैनिक कल्याण विभाग जयपुर के निर्देशानुसार जिला स्तरीय कार्यालयों तथा विभिन्न संस्थाओं में कार स्टीकर्स व स्टीकर्स वितरित कर राशि एकत्रित की जाती है। इस राशि का सदुपयोग विकलांग तथा शहीद परिवारजनों के पुनर्वास, सेवारत तथा सेवानिवृत सैनिकों व उनके परिवारों के कल्याण व पुनर्वास के लिए किया जाता है। इस उपलक्ष पर जिला सैनिक कल्याण बोर्ड कार्यालय में कर्नल मुकेश शर्मा ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस के उपलक्ष में शहीदों की मां एवं वीरांगनाओं का सम्मान भी किया।

कर्नल शर्मा ने शहीद महेन्द्रपाल की मां बाउड़ी देवी निवासी ग्राम नराधना, शहीद प्रभुराम चोटिया की वीरांगना रुकी देवी निवासी इन्दास तथा शौर्य चक्र विजेता शहीद सुमेरसिंह की पत्नी सरिता कंवर निवासी झाड़ीसरा को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। वहीं शहीद महेन्द्रपाल की मां बाउड़ी देवी को तीस हजार रुपए की सहायता राशि का चैक भी जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने भेंट किया। इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण बोर्ड, नागौर के अधिकारी व कार्मिक भी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...